IPL 2020: प्लेऑफ से बाहर होने पर छलका धोनी का दर्द, कहा- अब बचे हैं बस दर्दनाक 12 घंटे

0
434

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के मौजूदा सत्र में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) का सफर सोमवार को केकेआर से मैच के बाद खत्म हो जाएगा, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) चाहते हैं कि उनके खिलाड़ी इन आखिरी दर्दनाक 12 घंटों के हर पल का आनंद लें. केकेआर के 12 अंक हैं और सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के खिलाफ जीतने पर उसके 14 अंक हो जायेंगे. मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians), दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के 14 अंक हैं. चेन्नई अगले दोनों मैच जीतने पर भी 12 अंक ही ले सकेगी.

धोनी ने कहा बचे हैं 12 दर्दनाक घंटे

धोनी ने मैच के बाद कहा,’अच्छा प्रदर्शन नहीं करने पर दुख होता है.टूर्नामेंट में हमारे आखिरी दर्दनाक 12 घंटे बचे हैं. हमें इसका पूरा मजा लेना है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिये कि अंक तालिका में हम कहां हैं.’ उन्होंने कहा ,’अगर आप क्रिकेट का मजा नहीं ले रहे हैं तो यह क्रूर और दर्दनाक हो सकता है. मैं अपने युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से खुश हूं.’ आरसीबी पर आठ विकेट से मिली जीत में चेन्नई के खिलाड़ियों ने जैसा प्रदर्शन किया, धोनी पूरे टूर्नामेंट में उनसे वैसा ही खेल चाहते थे.

धोनी ने कहा, ‘यह परफेक्ट प्रदर्शन में से एक था. सभी ने रणनीति पर अमल किया. हमने विकेट लिये और उन्हें कम स्कोर पर रोका.’ उन्होंने किफायती गेंदबाजी करने वाले स्पिनर इमरान ताहिर और मिशेल सेंटनेर के अलावा बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ की भी तारीफ की.

पहली बार प्लेऑफ से बाहर हुई है चेन्नई सुपर किंग्स

आईपीएल का आगाज 2008 में हुआ था और धोनी की टीम ने पहले ही सीजन में फाइनल तक का सफर तय किया. हालांकि, फाइनल में उसे राजस्थान रॉयल्स से हार झेलनी पड़ी. 2016 और 2017 में चेन्नई की टीम सस्पेंड रही और 2018 में वापसी के साथ ही चेन्नई ने तीसरी बार आईपीएल ट्रॉफी जीती. 2019 में चेन्नई की टीम एक बार फिर फाइनल तक पहुंची और मुंबई में वो खिताबी मुकाबला हार गई. लेकिन इस बार 2020 में चेन्नई सुपरकिंग्स का सफर ग्रुप स्टेज में ही खत्म हो गया.