भाजपा ने लगाई किसान चौपाल, नए कृषि विधेयक पर किसानों को किया जागरूक

0
518

जमशेदपुर। केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों के हित के लिए तीन कृषि विधेयक पारित किए हैं। लेकिन विपक्षी दलों द्वारा किसानों को विधेयक के प्रति गुमराह करने की साजिश की जाने लगी है। विपक्षी दलों के भ्रामक प्रचार को असफल करने एवं किसानों को विधेयक के फायदे बताने के उद्देश्य से भाजपा जमशेदपुर महानगर के तत्वावधान में ‘किसान चौपाल’ लगाई गयी। रविवार को जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र के पटमदा मंडल अंतर्गत पश्चिम बंगाल के सीमा से सटे गेरुवाला ग्राम पंचायत के शिव मंदिर प्रांगण में जमशेदपुर सांसद विद्युत वरण महतो ने चौपाल लगाकर किसानों को कृषि विधेयक की बारीकियों पर विस्तारपूर्वक जानकरी दी गयी। किसानों को संबोधित करते हुए सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने कृषि विधेयक किसानों के हितों की रक्षा के लिए पारित किए हैं। नए कृषि विधेयक से अब किसान पूरे भारत में अपनी फसल कहीं भी बेच सकता है, जहां उसे अच्छे दाम मिलेंगे। किसानों के लिए विकल्प मिलने एवं बिचौलियों से आजादी मिलने से उनकी आर्थिक उन्नति के द्वार तेजी से खुलेंगे। सांसद विद्युत महतो ने काँग्रेस एवं अन्य विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए कहा कि मुद्दा विहीन विपक्ष किसानों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है, परंतु देश के किसान अपना हित समझते हैं, वे भ्रमित नहीं होंगे। बताया कि ‘‘एमएसपी” अर्थात न्यूनतम समर्थन मूल्य था, है और जारी रहेगा। इसके साथ ही मंडी की व्यवस्था भी पूर्व की तरह बनी रहेगी।

किसान चौपाल को भाजपा महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव ने संबोधित करते हुए कहा कि काँग्रेस एवं अन्य विपक्षी दलों ने कभी किसानों के उत्थान के लिए ठोस कदम नही उठाये, केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों के कल्याण हेतु कई योजनाओं को सफलतापूर्वक लागू किया है।

सांसद विद्युत महतो ने की ट्रैक्टर की पूजा: सांसद विद्युत वरण महतो ने कमलपुर मंडल के गेरुवाला गाँव में अन्नदाता किसान की सबसे अहम और पूज्य जोत साधन यंत्र ट्रैक्टर का विधिवत पूजन किया।

इस दौरान सांसद विद्युत वरण महतो, भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष मुचिराम बाउरी, जिला उपाध्यक्ष प्रदीप महतो, कमलपुर मंडल अध्यक्ष प्रधान महतो, पटमदा मंडल अध्यक्ष मंटू चरण दत्ता समेत काफी संख्या में किसान एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।