पत्रकारों के साथ कब होगा न्याय-AISMJWA

0
433

राँचीःझारखंड के गुमला और दुमका में पत्रकारों पर हो रहे फर्जी केस और अत्याचार के खिलाफ AISMJW एसोसिएशन के बिहार/झारखंड प्रभारी ने कड़ी निंदा की है.प्रदेश प्रभारी प्रीतम भाटिया ने ट्वीट कर सरकार,विपक्ष और डीजीपी से सवाल पूछा है कि पत्रकारों के साथ कब होगा न्याय?

बताते चलें कि कल दुमका के रामगढ़ थाने में पत्रकार रामजी शाह से समाचार संकलन के दौरान हुए विवाद को लेकर सरकारी कार्य में बाधा डालने का केस दर्ज हुआ है तो वहीं गुमला में एसडीओ और डीटीओ के द्वारा पत्रकार जगरनाथ के साथ धक्का मुक्की कर न सिर्फ प्रेस आईडी कार्ड जब्त कर लिया गया बल्कि उसका न्यूज भी डिलीट कर दिया.इन दोनों घटनाओं से स्थानीय पत्रकारों में काफी आक्रोश है और ऐसोसिएशन ने भी इस पर कडी़ आपत्ति जताई है.

ऐसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष रामप्रवेश सिहं ने कहा कि आए दिन राज्य में पत्रकार प्रताड़ना के मामले बढ़ते जा रहें और सरकार चुप्पी साधे हुए है.

ऐसोसिएशन के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष शंकर गुप्ता ने कहा है कि मांगा था बीमा,सुरक्षा कानून और आर्थिक पैकेज मिल रहें हैं अत्याचार और फर्जी मुकदमे.

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=wGsWsIgRh4k[/embedyt]

ऐसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष मोहम्मद सईद और प्रदेश सलाहकार राघव सिहं ने कहा कि पत्रकारों के लिए राज्य में एक आयोग बनाने की जरूरत है जो प्रताड़ना या पत्रकारहित की बात को लेकर सरकार को समय-समय पर अवगत कराते रहे.