मालदीव-भारत की दोस्ती का ताजा उदाहरण, पाकिस्तान में 19वें सार्क समिट पर फिर लगी रोक

0
456

मालदीव ने एक बार फिर इस बात पर मुहर लगाई है कि वो भारत का सच्चा दोस्त है। इस साल की शुरुआत में मालदीव ने ओआईसी में भारत का साथ दिया था लेकिन अब सार्क देशों की बैठक को लेकर पाकिस्तान की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। मालदीव ने पाकिस्तान में होने वाले 19वें सार्क समिट पर एक बार फिर रोक लगा दी है।

सार्क विदेश मंत्रियो की बैठक में पाकिस्तान ने एक बार फिर सार्क समिट शुरू करने की बात कही थी। ये समिट साल 2016 में पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में होना था लेकिन किसी ना किसी कारण से इसे टाला जा रहा था। अब एक बार फिर मालदीव की ओर से इस समिट को टाल दिया गया है।

मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने कहा कि अभी पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जंग लड़ रही है, इसलिए ऐसे समय में समिट पर चर्चा करना सही समय नहीं है।

मौजूदा सार्क अध्यक्ष नेपाल ने सदस्यों देशों से समिट की प्रक्रिया करने की बात कही थी लेकिन मालदीव के हस्तक्षेप के बाद इसे टाल दिया गया।

ऐसा पहली बार नहीं है जब मालदीव ने भारत की इस तरह सहायता की हो। इस साल मई में ओआईसी की बैठक में, मालदीव ने ऐसे किसी एक्शन का समर्थन करने के लिए मना कर दिया था जिसमे इस्लामोफोबिया के लिए भारत को बाहर कर दिया था। वहीं साल 2016 से पाकिस्तान इस्लामाबाद में सार्क समिट कराने की कोशिश कर रहा है। लेकिन भारत इसका लगातार विरोध कर रहा है।

सूत्रों के अनुसार