Fri. Jun 21st, 2024

चिराग को मिला अल्टीमेटम, NDA में रहना है या नहीं, अगले 48 घंटे में कर लें तय

By Rajdhani News Sep 26, 2020 #bjp #Lgp #nda

पटना: एलजेपी लगातार अपनी नाराजगी जेडीयू के शीर्ष नेताओं से कर रही है. बिहार में कोरोना और बाढ़ से जो स्थिति बनी उसको लेकर लगातार चिराग पासवान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  पर हमलावर हैं. इसके मद्देनजर चिराग पासवान ने प्रधानमंत्री मोदी को 6 पन्नों की चिट्ठी भी लिखी थी जिसमें कई सवाल उठाए गए.

उसमें बिहार की स्थिति को लेकर सवाल उठाए गए थे.

उस चिट्ठी में भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेताओं और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संबंधों पर सवाल उठाए गए थे एलजेपी को राज्यसभा चुनाव के वक्त जेडीयू के तरफ से या एनडीए के तरफ से कोई रिस्पांस नहीं मिलना इसको लेकर चिराग पासवान ने नाराजगी जाहिर की थी. वही मंत्रिमंडल में एलजेपी के एक भी विधायक को जगह नहीं मिलना इसको लेकर भी उस चिट्ठी में सवाल उठाए गए थे.

लगातार एलजेपी और जेडीयू के बीच खींचातानी में भारतीय जनता पार्टी अपने आप पीसी हुई महसूस कर रही थी. लेकिन चुनाव आयोग ने तारीखों की घोषणा कर दी है. इसके मद्देनजर हर हालत में एनडीए में कौन-कौन से गठबंधन दल रहेंगे इसका फैसला करना है.

भारतीय जनता पार्टी बड़ी पार्टी है. केंद्र में सरकार है. इसलिए नीतीश कुमार ने भी यह जिम्मेदारी भारतीय जनता पार्टी पर छोड़ दी है कि वह इसका सही फैसला ले. वही चिराग पासवान को भी उम्मीद है कि भारतीय जनता पार्टी कोई उचित फैसला करेगी. लगातार बैठकों का दौर जारी है इस बैठक के दौर में कल रात में भी अहम बैठक हुई है.

जानकारी के मुताबिक इस बैठक में भूपेंद्र यादव, जेपी नड्डा और एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान भी मौजूद थे. गठबंधन में रहने और नहीं रहने को लेकर चिराग पासवान से उनकी राय भी जानी गई और उनको बोला गया है कि वह कोई आखिरी फैसला कर लें. एनडीए में रहना है या नहीं रहना है.

सीटों के मद्देनजर जो जानकारी मिल रही है कि एनडीए में एलजेपी को 25 से 27 सीटों का ऑफर हो रहा है हालांकि एलजीपी ने समय मांगा है 1 से 2 दिन का और 1 से 2 दिन में वह तय करके बीजेपी को बताएंगे कि उनको यह ऑफर एक्सेप्ट है या नहीं.

वहीं एलजेपी का कहना है यह तो विधानसभा सीटें हैं. हमें एमएलसी और राज्यसभा में भी कुछ भागीदारी चाहिए. इसके मद्देनजर एमएलसी में एक और राज्यसभा में एक मिले. सूत्रों के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी ने इन मुद्दों पर अभी चिराग पासवान को कोई जवाब नहीं दिया है. सीटों को लेकर जरूर उन से रायशुमारी हुई है अब देखना यह होगा कि चिराग पासवान तरफ से क्या जवाब आता है.

सूत्रों के अनुसार

Related Post