Sun. Jun 23rd, 2024

बड़ी खबर: सरकार ने लिया 21 सितंबर से स्कूल नहीं खोलने का फैसला, ये है वजह

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने भले ही 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं क्लास तक के बच्चों के लिए स्कूल खोलने को लेकर दिशानिर्देश जारी कर दिए हों, लेकिन कई राज्यों ने स्कूल खोलने पर असमर्थता जताई है. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के बाद अब गुजरात सरकार ने भी 21 सितंबर से स्कूल खोलने या न खोलने को लेकर स्थिति साफ कर दी है. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते देशभर के स्कूल करीब 6 महीने से बंद पड़े हैं.

बच्चों के हितों को ध्यान में रखकर लिया गया फैसला

गुजरात में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश के शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चूडास्मा ने 21 सितंबर से स्कूल खोलने की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया है.

उन्होंने कहा, बच्चों के हितों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने 21 सितंबर से स्कूल न खोलने का फैसला किया है. ये निर्णय गांधीनगर में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में आयोजित हुई कैबिनेट मीटिंग में लिया गया.

अंतिम फैसला राज्य सरकार का केंद्र सरकार ने इस महीने की शुरुआत में नौवीं से 12वीं तक के बच्चों के लिए स्कूल खोले जाने का ऐलान जरूर किया था, लेकिन साफ कर दिया था कि इस बारे में अंतिम फैसला राज्य सरकार को ही लेना होगा. केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक नौवीं से लेकर 12वीं तक के स्टूडेंट्स पेरेंट्स की अनुमति और टीचर्स की निगरानी में 21 सितंबर से स्कूल जा सकेंगे. केंद्र सरकार ने साफ कर दिया था कि राज्य सरकारों पर 21 सितंबर से ही स्कूल खोलने को लेकर कोई बाध्यता नहीं है.

कोरोना वायरस के चलते भारत में स्कूल और कॉलेज समेत सभी शिक्षण संस्थान गत 16 मार्च को ही बंद कर दिए गए थे. इस जानलेवा महामारी के चलते एग्जाम से लेकर रिजल्ट तक सभी प्रक्रिया प्रभावित हुई. देश में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 लाख का आंकड़ा तक पार कर चुकी है.

सूत्रों के अनुसार

Related Post