लॉक डाउन के मद्देनजर काम धंधा बंद हो जाने पर मानसिक रूप से बीमार हो जाने के कारण परिवार की स्थिति अत्यंत ही दयनीय -video

0
449

Jamshedpur – -लॉक डाउन के मद्देनजर काम धंधा बंद हो जाने पर लाल बहादुर गोप मानसिक रूप से बीमार हो जाने के कारण परिवार की स्थिति अत्यंत ही दयनीय हो गई है मां ज्योत्सना गोप का रो रो कर बुरा हाल है ले देकर राशन एक आसरा था वह भी राशन कार्ड डिलीट हो जाने से परिवार के सामने भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है पोटका मार्केटिंग ऑफिसर सह पोटका बीडीओ दिलीप कुमार महतो को इस संबंध में परिवार वालों ने अपनी दुखड़ा सुनाई मगर नहीं निकला कोई समाधान, गरीबी के कारण नहीं करा पा रहे हैं अपने बेटा का इलाज.

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=FT31hberUTs[/embedyt]

आपको बता दें कि लाल बहादुर गोप जमशेदपुर में कपड़े की दुकान पर कार्य कर अपने परिवार का जीवन यापन करता था मगर लॉक डाउन होते ही सारे दुकान बंद हो गए जिससे परिवार के समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई इस दुख में लाल बहादुर मानसिक रूप से विक्षिप्त हो गया जिसके बाद परिवार के समक्ष रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई. ले देकर एक राशन कार्ड के आसरा था जिसमें 20 किलो चावल इस परिवार को मिलता था वह भी अप्रैल 2020 से कार्ड डिलीट हो जाने से वह भी बंद हो गया जिसके कारण बेटे की मानसिक स्थिति के कारण विधवा मां का रो रो कर बुरा हाल है पति तीन साल पहले देहांत हो चुका है इसके बाद दूसरी विपदा के रूप में बेटा का मानसिक रूप से विक्षिप्त हो जाना परिवार को बर्बादी की कगार पर ले आया है गरीबी के कारण अपने बेटे का रांची स्थित पागलखाने में नहीं करा पा रही है इलाज पहले से ही ऋण लेकर यह परिवार परेशान है जिसको चुका नहीं पा रही है पति के देहांत के बाद से ही बेटा का पागल हो जाना राशन कार्ड का डिलीट हो जाना इस परिवार में मानो विपदा का पहाड़ टूट पड़ा है अब बूढ़ी मां प्रशासन से मदद की गुहार लगा रही है यदि प्रशासन इस परिवार की ओर ध्यान देता है इसका परिवार फिर से पटरी पर लौट सकता है बस एक पहल की आवश्यकता है

 

रिपोर्ट – – शिव शंकर साह, mob no – – 9113773766