रिमांड:घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद सुजीत सिन्हा को रिमांड पर लेने के बाद रांची पुलिस ने शुरू की पूछताछ, कई मामलों का हो सकता है खुलासा

0
734

जमशेदपुर :-जमशेदपुर के घाघीडीह सेंट्रल जेल में उम्र कद की सजा काट रहे गैंगस्टर सुजीत सिन्हा को रांची पुलिस ने 4 दिनों के लिए रिमांड पर लिया है। घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद सुजीत सिन्हा और उसके गुर्गे जेल से गैंग संचालित कर रहे हैं। जेल से ही रांची हजारीबाग चतरा रामगढ़ लातेहार धनबाद और पलामू के ठेकेदारों और कारोबारियों से रंगदारी मांगी जा रही है। मांग पूरी नहीं करने पर हत्या करने की धमकी दी जा रही है। हाल के दिनों में सुजीत सिन्हा के द्वारा रांची के चार कोयला कारोबारियों की हत्या की साजिश रची गई थी और रंगदारी मांगी गई थी। इसके अलावा बिल्डर अभय सिंह से सुजीत सिन्हा के द्वारा दो करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी और अभय सिंह के ऑफिस में फायरिंग भी की गई थी। बताया जा रहा है कि इसी को लेकर रांची पुलिस ने सुजीत सिन्हा को रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू कर दी है इस क्रम में कई मामलों का खुलासा होने की संभावना जताई जा रही है।

जेल से सुजीत सिन्हा संचालित कर रहा गिरोह

जमशेदपुर के घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद गैंग स्टार सुजीत सिन्हा जेल के अंदर से ही गैंग चला रहा है। जेल मैं बैठे-बैठे वह अपने गुरु को संग रांची हजारीबाग रामगढ़ और पलामू के ठेकेदारों और कारोबारियों से रंगदारी मांगने का काम रहा है। रंगदारी नहीं देने पर हत्या करने तक की धमकी दे रहा है सुजीत सिन्हा के खिलाफ आर्म्स एक्ट रंगदारी और हत्या सहित 51 केस दर्ज हैं। उनके गिरोह में कई अपराधी शामिल हैं। गिरोह के कुछ अपराधी वर्तमान में फरार है और कुछ सक्रिय हैं इसके अलावा कुछ अपराधी जमानत पर है जिसके जरिए सुजीत जेल के अंदर से ही गिरोह का संचालन कर रहा है।

सुशील श्रीवास्तव का खास शूटर था सुजीत सिन्हा

हजारीबाग कोर्ट में मारे गए गैंगस्टर सुनील श्रीवास्तव के खास सूत्रों में सुजीत सिन्हा की गिनती होती थी। सुजीत सिन्हा ने सुशील की मौत का बदला लेने के लिए भोला पांडे गिरोह के सरगना विकास तिवारी की हत्या की साजिश रची थी। सुजीत सिन्हा नहीं अपराधी लवकुश शर्मा के जरिए इंजीनियर समरेंद्र प्रताप सिंह को मारने की साजिश रची थी। रांची पुलिस ने इस मामले में सुजीत को गिरफ्तार किया था पलामू रांची समेत अन्य जिलों में उनके खिलाफ दर्जनों अपराधिक मामले दर्ज हैं।

घाटशिला कमलेश सिंह