वेबीनार आयोजित कर स्कूल में मना शिक्षक दिवस समारोह, राष्ट्रपति पुरस्कार सम्मानित शिक्षिका संध्या प्रधान ने ऑनलाइन दिए छात्रों को सफलता के टिप्स-video

0
767

आदित्यपुर:कोरोना संक्रमण को लेकर ऑनलाइन मोड में विगत 5 महीनों से शैक्षणिक कार्य संपन्न किए जा रहे हैं , इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए 5 सितंबर शिक्षक दिवस के उपलक्ष पर भी स्कूलों में ऑनलाइन समारोह आयोजित कर शिक्षक दिवस समारोह मनाया गया , जहां स्कूली बच्चों ने घर बैठे वेबीनार के माध्यम से शिक्षकों को शुभकामनाएं दी।

सरायकेला जिले के आदित्यपुर नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत न्यू कॉलोनी उच्च विद्यालय स्कूल में राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित प्राचार्य संध्या प्रधान ने

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=pi2v8md89sQ[/embedyt]

वेबीनार आयोजित कर शिक्षक दिवस समारोह स्कूल में मनाया, इस मौके पर फेसबुक लाइव के भी माध्यम से स्कूल में मने शिक्षक दिवस समारोह का बच्चों प्रसारण किया गया, स्कूल में कम शिक्षकों के बीच सादे समारोह में स्कूल प्राचार्य संध्या प्रधान ने सर्वपल्ली डॉक्टर राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण कर सादगी पूर्ण तरीके से शिक्षक दिवस समारोह मनाया।

कोरोना का काल में बढ़ी है शिक्षकों की जिम्मेदारी

बेबिनार के माध्यम से राष्ट्रपति पुरस्कार सम्मानित प्राचार्य संध्या प्रधान ने बताया कि कोरोना के इस काल में स्कूली शिक्षकों की जिम्मेदारियां बढ़ गयी है, रेगुलर क्लास नहीं होने के कारण बच्चे लगातार पीछे हो रहे हैं , जबकि ऑनलाइन शिक्षा पद्धति अभी भारत में कारगर साबित नहीं हो पा रही , ऐसे में ऑनलाइन मोड के अलावा स्कूली शिक्षक अन्य कई माध्यमों से छात्रों को पढ़ाने की कवायद कर रहे हैं , इन्होंने माना कि सरकारी स्कूलों में संसाधन सीमित है, बावजूद इसके इन्हीं संसाधनों के बीच बच्चों को शिक्षा के मुख्य धारा से जोड़ना है , इधर कोरोना का काल में कक्षाएं शुरू होने पर शिक्षकों को विशेष तौर पर छात्रों को देखरेख के बीच शिक्षा प्रदान करना होगा , ऐसे में निश्चित तौर पर लगातार शिक्षकों की जिम्मेदारियां और चुनौतियां बढ़ रही हैं.