सङक छीनताई मामले मे दो गया जेल

0
427

चांडिल–विगत 30 मई 2020 की रात्रि में तिरूलडीह से जमशेदुपर जाने के क्रम में ईचागढ़ थाना क्षेत्र के डुमटांड़ से करीब एक किलोमीटर आगे सड़क पर तीन-चार अज्ञात अपराधकर्मी के द्वारा तिरुलडीह निवासी सनु भगत के सब्जी भरे पिकअप वैन सं जेएच -05 बीएक्स -4901 को रोकवाकर सनु भगत के साथ मारपीट कर 8,250 रूपये नगद आधार कार्ड, ड्राईविंग लाईसेंस एवं दो मोबाईल लूट के मामले का ईचागढ़ पुलिस ने सोमवार को खुलासा कर लिया है। जहां पुलिस ने लूट की घटना में शामिल दो अपराधकर्मी जमील अहमद एवं रफीक अंसारी को कांड में लूटी गयी दो मोबाईल के साथ गिरफ्तार किया लिया। इस संबंध में जानकारी देते हुए ईचागढ़ थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि 30 मई 2020 की रात्रि में घटना घटित होने के बाद 31 मई 2020 को इस संबंध में तिरुलडीह निवासी सनु भगत पिता मुन्ना भगत के द्वारा ईचागढ़ थाना में लिखित शिकायत दर्ज की गई थी। इसके बाद ईचागढ़ थाना में कांड संख्या 24/2020 दर्ज कर ली गयी थी। इसी मामले का उद्भेदन करते हुए जमील अहमद एवं रफीक अंसारी को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। जमील अहमद रांची जिला के लोअर बाजार थाना के पत्थलकुदवा, मिलन कॉलोनी का निवासी हैं। वही रफीक अंसारी सिल्ली थाना क्षेत्र के बुडाडीह बामनी का निवासी है, जिसे तिरूलडीह के चौङा से गिरफ्तार किया गया ।जमील अहमद वर्ष 2017 में तमाड़ थानान्तर्गत बैट्री चोरी के कांड में जेल जा चुका है। वही रफीक अंसारी रेल जमशेदपुर थाना में डकैती के कांड में जेल जा चुका है।