जमशेदपुर में नहीं थम  रहा आत्महत्या का सिलसिला

0
869

जमशेदपुर: जमशेदपुर में इन दिनों आत्महत्याओं का ग्राफ बढ़ता जा रहा है जहाँ आये दिन किसी न किसी थाना क्षेत्र में आत्महत्या की घटना आम हो गई है ताजा मामला परसुडीह थाना अंतर्गत गढ़िवान पट्टी निवासी 43 वर्षीय हिरवा खान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली .

मिली जानकारी के अनुसार विगत कई वर्षों से मृतक और उसकी पत्नी के बीच घरेलू विवाद चल रहा था,जहाँ उसने आत्महत्या जैसी घटना को अंजाम दिया,वही जानकारी मिलने पर परसुडीह पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और जांच पड़ताल में जुट गई है,वही घटना के संबंध में जानकारी देते हुए परसुडीह पुलिस पदाधिकारी श्याम नारायण ओझा,बागबेड़ा थाना ने बताया कि फांसी की सूचना मिलने पर वे घटनास्थल पर पहुंचे हैं जहां उन्होंने देखा कि परिजन शव को फंदे से उतार चुके हैं जहाँ शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है साथ ही उन्होंने बताया कि मृतक मानसिक रूप से बीमार था।

जमशेदपुर में आत्महत्या का सिलसिला जारी है। बागबेड़ा का इलाका मौत के निशाने पर है। हर दूसरे दिन यहां कोई ना कोई आत्महत्या कर रहा है। इस बार एक एक युवती ने मौत के फंदे पर लटकर अपनी जान दे दी है।

घटना रात की है। किसी को नहीं मालूम था कि जोबा घर के अंदर है तो बाहर कोई आवाज क्यों नहीं आ रही है। जब नाना नानी अंदर गए तो देखा वह फंदे से झूल रही है। बागबेड़ा के रानीडीह की रहने वाली 19 वर्षीय जोबा मार्डी  के माता पिता का देहांत बचपन में ही हो गया है। वह अपने नाना नानी के घर में रहती थी। वह एक बिष्कुट दुकान में काम करती थी और पढ़ाई भी करती थी।परिजनों ने उसे फंदे से लटका देखकर नीचे उतारा और पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने तफतीश के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। जोबा तो इस घर से चली गयी लेकिन उसने जाते जाते जिन्दगी से हारकर जमशेदपुर में मौत को गले लगाने वालों सिलसिले में अपना नाम जोड़ दिया।