Tue. Apr 23rd, 2024

चीन को भारत का एक और डिजिटल झटका , 47 ऐप्स बैन किया

By Rajdhani News Jul 27, 2020 #china #digital #india

भारत सरकार ने चीन पर एक और बड़ी कार्रवाई करते हुए सोमवार को 47 अन्‍य चीनी एप्‍स पर प्रतिबंध लगा दिया है। दूरसंचार एवं सूचना प्रसारण मंत्रालय ने सुरक्षा नियमों और डाटा प्रोटोकॉल का उल्‍लंघन का आरोप लगाते हुए इन एप्‍स पर प्रतिबंध लगाया है। इन सभी एप्‍स पर यूजर्स का डाटा चोरी करने का आरोप लगा  था। ये सभी एप्‍स गोपनीयता कानून का भी उल्‍लंघन कर रहे थे। हालांकि अभी इन एप्‍स का नाम सामने नहीं आया है। इसके साथ ही करीब 250 अन्‍य चीनी एप्‍स पर निगरानी रखी जा रही है।

PubG सहित कई प्रमुख ऐप्स पर निगरानी

47 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय दूरसंचार मंत्रालय द्वारा सुरक्षा समीक्षा के बाद लिया गया था। राष्ट्रीय सुरक्षा और उपयोगकर्ता की गोपनीयता के संभावित उल्लंघनों के लिए कुल 275 ऐप सरकार की राडार पर थे। PubG सहित प्रमुख ऐप्स को 275 ऐप्स की सूची में रखा गया है, जिन्हें सरकार द्वारा जल्द ही प्रतिबंधित किया जा सकता है। विभिन्न मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, 47 प्रतिबंधित चीनी ऐप पहले से प्रतिबंधित ऐप्स के क्लोन के रूप में काम कर रहे थे।

सरकार की रडार पर 275 एप्‍स-

सरकारी सूत्रों के अनुसार, भारत ने 275 से अधिक चीनी ऐप्स की सूची तैयार की है जो राष्ट्रीय सुरक्षा और उपयोगकर्ता की गोपनीयता के किसी भी उल्लंघन के लिए संदेह के घेरे में हैं। कुछ शीर्ष गेमिंग चीनी एप्‍स को भी नई सूची में प्रतिबंधित किए जाने की उम्मीद है, जो तैयार की जा रही है। चीनी एप्‍स की समीक्षा की जा रही है, जो कथित रूप से चीनी एजेंसियों के साथ डेटा साझा कर रहे हैं।

सरकार ने बताया ये कारण-

एक सरकारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि ‘प्रतिबंध की घोषणा सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69A के तहत इसे लागू कर रहा है, जो सूचना प्रौद्योगिकी के प्रासंगिक प्रावधानों (प्रक्रिया और सुरक्षा उपायों के साथ सार्वजनिक सूचना पर पहुंच को अवरुद्ध करने के नियमों) के साथ है। खतरों की उभरती प्रकृति को देखते हुए 59 एप्स को ब्लॉक करने का निर्णय लिया गया है, क्योंकि उपलब्ध जानकारी के मद्देनजर वे ऐसी गतिविधियों में लगे हुए हैं जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए सही नहीं।’

Related Post