Sat. May 25th, 2024

राष्ट्रीय मानव अधिकार के निर्देश पर पोटका वीडियो अभय कुमार द्विवेदी पहुंचे नाचोसाई गांव। उन्होंने नाचोसाई गांव को आदर्श गांव बनाने का लिया संकल्प।

 

 

 

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के निर्देश एवं सलाह पर पोटका वीडियो अभय कुमार द्विवेदी चाकड़ी पंचायत के नाचोसाई गांव पहुंचकर दोनो पक्षों से मिले। पोटका वीडियो अभय कुमार द्विवेदी ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के बातों को दोनों पक्षों के बीच रखते हुए कहा की क्षेत्र की विकास पहली प्राथमिकता है एवं बिना किसी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा कर धार्मिक स्थल को छोड़ खनिज संपदा का सदुपयोग किया जा सकता है। जिससे विकास में सहायक हो सके। उन्होंने कहा की शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार में ग्रामीणों का हर संभव सहयोग करने के लिए मैं वचनबद्ध हूं। राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने भी माना कि उनकी संस्कृति की रक्षा करना भी हमारे परम दायित्व है पर विकास करना भी जरूरी है जिसमें सबकी भागीदारी महत्वपूर्ण है।संसाधनों का उपयोग करना भी जरूरी है पर ध्यान रखना है इनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचे और उनका सम्मान हो और जिस पहाड़ी का इस्तेमाल धार्मिक स्थल के रूप मे नही किया जाता है वहां सरकारी नियम अनुसार पहाड़ी का खनन कार्य किया जा सकता है।संसाधनों का दुरुपयोग एवं अवैध खनन कानूनन जुर्म है। ग्राम प्रधान संघ के प्रखंड अध्यक्ष उत्तम कुमार ने ज्ञापन सौंप जल,जंगल और जमीन का दोहन होने की शिकायत की।उन्होंने ज्ञापन में कहा अंचल के द्वारा इसपर सकारात्मक कार्य नहीं की जा रही। प्रखंड विकास पदाधिकारी अभय कुमार द्विवेदी ने माना की ग्रामीण उग्र थे पर दोनों पक्षों के साथ मुलाकात कर उनकी शिकायत सुनी जहां ग्रामीणों ने कहा जो गुनहगार है उसके ऊपर सरकारी नियम अनुसार कारवाई होनी चाहिए।ग्रामीणों ने आरोप लगाया प्रधान पूरन सरदार को दोषी मानते हुए कहा वो जानबूझकर उस पहाड़ी का दोहन होने दिया।ग्रामीणों ने कहा ग्रामसभा में ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा जो सर्वमान्य होगा। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा जो भी ग्रामीण क्षेत्र में किसी भी तरह का उद्योग या खनन कार्य कर रहे हैं वह क्षेत्र का विकास में अपनी भूमिका ईमानदारी पूर्वक अवश्य निभाएं और शिक्षा, स्वास्थ एवं रोजगार देकर उनका सम्मान एवं विकास करें ताकि क्षेत्र के लोग ठगी महसूस ना करें और अपना सहयोग दे सकें।इस अवसर पर पोटका प्रखंड के पदाधिकारियों के साथ भारी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Related Post