Sat. May 25th, 2024

झारखंड बांगला भाषा उन्नयन समिति के द्वारा प्रेस वार्ता का माध्यम से हल्दी पोखर स्टेशन का नाम बांगला भाषा में लिखे जाने का मांग को लेकर 8 मार्च 2024 को शांतिपूर्वक धरना पर बैठने का निर्णय लिया गया

पोटका प्रखंड अंतर्गत हाता में झारखंड बंगला भाषा समन्य समिति की ओर से प्रेस वार्ता का आयोजन हुआ। प्रेस वार्ता में हल्दी पोखर रेलवे स्टेशन में लगा सिलापट में हल्दी पोखर स्टेशन बांगला भाषा में लिखे जाने का मांग को लेकर 8 मार्च 2024 को 11:00 बजे शांतिपूर्वक धरना पर बैठने का निर्णय लिया गया। समिति के द्वारा हल्दी पोखर स्टेशन में लगे सिलपट में बांगला भाषा में हल्दी पोखर रेलवे स्टेशन का नाम लिखे जाने का मांग की गई। समिति के द्वारा कहां गया कि बांगला भाषा का सम्मान होना चाहिए हम लोग किसी भी भाषा को विरोध नहीं करते हैं बांगला भाषा में भी हल्दी पोखर रेलवे स्टेशन का नाम लिखा जाना चाहिए। सुनील कुमार दे एवं मृणाल पाल ने कहा कि हल्दी पोखर स्टेशन की स्थापना के समय से ही सिलपट में बांगला भाषा का प्रयोग किया गया था। लेकिन हल्दी पोखर स्टेशन का नया बिल्डिंग बनने के बाद बांगला भाषा को हटाकर अंग्रेजी, हिंदी एवं उड़िया भाषा में हल्दी पोखर स्टेशन का नाम में लिखा गया ।प्रेस वार्ता में मौके पर जिला परिषद सूरज मंडल, सुनील कुमार दे, मृणाल पाल, अमल विश्वास, राजू पाल, संजय साहू आदि उपस्थित रहे।

Related Post