Sun. May 26th, 2024

कलियुग का अद्भुत औषधि है कीर्तन – बोले पोटका विधायक संजीव सरदार

मान -अपमान, सुख-दुख ,राग -द्वेष आदि को मिटाने में हरि नाम संकीर्तन इस कलयुग की सिद्ध औषधीय है उक्त बातें रामनवमी के शुभ अवसर पर पोटका प्रखंड अंतर्गत हरिदास बाबा जी संकीर्तन संघ टांगराईन में आयोजित दो दिवसीय अखंड हरिनाम संकीर्तन के समापन सत्र में पोटका के विधायक संजीव सरदार ने कहा।
मैं आपको बता दूं हरिदास बाबा जी सार्वजनिक संकीर्तन संघ की ओर से दो दिवसीय हरिनाम संकीर्तन का आयोजन 28 मार्च से किया गया था जिसमें झारखंड एवं पश्चिम बंगाल से आठ कीर्तन संप्रदाय ने अपनी अपनी कला से कीर्तन प्रदर्शन किया। जिसमें श्री प्रहलाद गोप संप्रदाय के बाल वर्ग ने दर्शकों का मन मोह लिया। इस हरि नाम संकीर्तन को सफल बनाने में संयोजक मंडली जयहरि सिंह मुंडा, निमाई दास, बंकिम चंद्र भगत, धर्मांग मंडल, सचिव सुबल दास ,अध्यक्ष पीयूष मंडल ,कोषाध्यक्ष संटु मंडल सह कोषाध्यक्ष कांग्रेश भगत, कार्यकारिणी सदस्य -मंगल पान, गोवर्धन पात्रों, कानू राम भगत ,शिशिर भगत ,चित्रांगो मंडल, अमर भगत ,उज्जवल कुमार मंडल लोहार सिंह मुंडा, सुनील सिंह मुंडा, सिंहराई माझी, भोलानाथ सरदार, शिवचरण सरदार, प्रभाष टूडू, नेपाल भगत, दिलीप भगत ,मलय सीट, सुविर मंडल ,सुदाम खंडवाल ,प्रताप चंद्र भगत, जासकान माझी, मंगला मांझी एवं समस्त ग्राम वासियों का सराहनीय योगदान रहा।

Related Post