Sun. May 26th, 2024

पोटका प्रखंड के चाकड़ी उत्क्रमित प्लस टू उच्च विद्यालय में मास ड्रग् एडमिनिस्ट्रेशन अभियान का उद्घाटन

फाइलेरिया से मुक्ति अभियान को लेकर पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका प्रखंड अंतर्गत उत्क्रमित प्लस टू उच्च विद्यालय चाकड़ी से 15 दिवसीय फाइलेरिया मुक्ति अभियान की शुरुआत विधायक के प्रतिनिधि रूप में भुवनेश्वर सरदार. प्रमुख शुक्र मणि टू डू जिला परिषद सविता सरदार सिविल सर्जन जुझार माझी उपस्थिति में की गई. सिविल सर्जन जुझार माझी ने जनप्रतिनिधियों सामाजिक संस्थाओं एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं को चिकित्सा कर्मियों के साथ सहयोगी के रूप में काम करने की अपील की। उन्होंने उक्त कार्यक्रम का राष्ट्रीय राज्य एवं प्रखंड स्तर पर पर्यवेक्षण करने की घोषणा किया। साथ ही सभी चिकित्सा कर्मियों से आह्वान किया की दवा वितरण नहीं करें बल्कि साथ रह कर के दवा को खिलाएं।
निर्धारित मापदंड के अनुसार इस दवा का सेवन 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को ,गर्भवती महिलाओं को एवं गंभीर बीमारी से ग्रसित जनसमूह को नहीं करानी है।
डोज का प्रकार 1 वर्ष से 2 वर्ष के बच्चों को आधा गोली एल्बेडाजोल, 2 वर्ष से 5 वर्ष तक के बच्चों को 1 गोली डीईसी एवं 1 गोली एल्बेडाजोल , 6 से 14 वर्ष के किशोरों को 2 गोली डीईसी एवं 1 गोली एल्बेंडाजोल एवं 15 वर्ष तथा उससे से अधिक उम्र के जनसमूह को 3 गोली डीईसी एवं 1 गोली एल्बेंडाजोल खिलानी है।
ज्ञात हो कि एक सर्वे के अनुसार जिले के पोटका प्रखंड को फाइलेरिया के मामले में रेड जोन घोषित किया गया है यह बीमारी मादा क्यूलेक्स मच्छरों के बार-बार काटने से होती है एवं लक्षण सामने आने में 8 से 16 वर्ष तक लग जाता है।
कार्यक्रम के उद्घाटन में आए अतिथियों का स्वागत विद्यालय प्रबंधन समिति एवं छात्र छात्राओं के द्वारा गाजे- बाजे के साथ किया गया। कार्यक्रम में मौके पर प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर रजनी महाकुड़ , प्रखंड विकास पदाधिकारी निखिल गौरव कमान कश्यप. पंचायत के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य आदि उपस्थित थे ‌। कार्यक्रम को सफल बनाने में बी ए एम मनोज कुमार शर्मा ,बीपीएम अनामिका सिंह, डीसीएम गीतांजलि शर्मा, एफ एल ए अनु कुमारी ,एमटीएस सुनील तिर्की, एमपीडब्ल्यू तुषार मंडल ,अवधेश प्रसाद, पलाश मंडल , दीपंकर, देवाशीष , विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाएं, विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्य गण छात्र-छात्राओं का पूर्ण योगदान रहा ।

Related Post