Sat. May 25th, 2024

जल नल योजना के कार्य में घोर अनियमितता हो रही है, कार्य से भविष्य में जल संकट बनी रहेगी

*ज्वाइंट वेंचर कंपनी नल जल योजना के तहत 8 करोड़ का काम कर रही है*

 

जल नल योजना के कार्य में घोर अनियमितता हो रही है, कार्य से भविष्य में जल संकट बनी रहेगी

 

मुकेश कुमार सिंह

 

चंदवा।चंदवा प्रखंड के कई पंचायतों में जल नल योजना के तहत कार्य चल रहा है जिसमें अभी चंदवा के पूर्वी पंचायत में जल नल योजना के तहत पाइप बिछाने नए डीप बोरिंग करने और जगह जगह पर टंकी देने के लिए स्टैंड का निर्माण कार्य चल रहा है निर्माण कार्य में ज्वाइंट वेंचर नाम की कंपनी कार्य कर रही है बताया जाता है कि यह कंपनी बिहार के औरंगाबाद की कंपनी है देखा गया कि पाइप बिछाने में जो कार्य हो रहे हैं पाइप की गुणवत्ता भी काफी खराब देखी गई और जगह जगह पर जो टंकी रखने के लिए स्टैंड बनाया जा रहा है उसका निर्माण भी गुणवत्तापूर्ण नहीं है जानकारों ने बताया कि स्टैंड बनाने में आठ छड़ लगने हैं परंतु ठेकेदारों के द्वारा उसमें छह छड़ का ही निर्माण आ गया है स्टैंड की मजबूती भी कमजोर बताई जा रही है ग्रामीणों के द्वारा यह कहा जा रहा है कि ठेकेदार जैसे-तैसे काम करते चले जा रहे हैं जिला प्रशासन के लोग कोई भी देखने नहीं आ रहा है वहीं पूर्व में चंदवा पूर्वी के मुखिया रंजीत उरांव के द्वारा कार्य की गुणवत्ता को देखकर सवाल खड़ा किया था परंतु पीएचडी विभाग के लोगों पर इसका कोई असर नहीं पड़ा और ठेकेदार अपने जैसे-तैसे काम कर रहे हैं ग्रामीणों ने यह भी कहा कि जहां जरूरत है वहां ठेकेदार के द्वारा डीप बोरिंग नहीं किया जा रहा है वही पुराने नल में ही पाइप का कनेक्शन किया जा रहा है गुणवत्ता के सवाल पर पीएचडी विभाग के जेई सुनील कुमार से पूछे जाने पर उन्होंने बतलाया कि प्राक्कलन राशि के आधार पर काम किया जा रहा है गुणवत्ता युक्त कार्य हो रहा है परंतु ग्रामीण कार्य देखकर स्थानीय स्तर पर हमेशा सवाल खड़ा कर रहे हैं ठेकेदार से प्राक्कलन पत्र की मांग की जाती है तो उनके द्वारा किसी तरह का कोई पेपर नहीं दिखाया जाता है वहीं ग्रामीणों ने यह भी बताया कि सड़क के किनारे पाइप बिछाने का काम ज्वाइंट वेंचर कंपनी के द्वारा की जा रही है जिससे सड़क को तोड़ देने का काम किया जा रहा है ग्रामीणों के कहने पर भी सड़क को पहले की तरह ठेकेदार के द्वारा नहीं कराया जाता है जिससे ग्रामीणों में काफी रोष व्याप्त है ज्वाइंट वेंचर की कंपनी जल नल योजना का लगभग 8 करोड रुपए की बताई जा रही है परंतु कार्य देखकर लोग बीफर पढ़ रहे हैं परंतु कंपनी के ठेकेदार और पीएचडी विभाग के कार्यपालक अभियंता और कनीय अभियंता मानो ठेकेदार के साथ पार्टनर का काम कर रही है ऐसा व्यवहार ग्रामीणों के साथ किया जा रहा है चंदवा पूर्वी के मुखिया रंजीत उराव में भी बतलाया कि हमारे पंचायत में नल जल योजना के कार्य में घोर अनियमितता हो रही है हम भी इस कार्य को लेकर आंदोलन करेंगे और गुणवत्तापूर्ण कार्य के लिए पीएचडी विभाग से मांग करेंगे नहीं माने जाने पर झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री माननीय हेमंत सोरेन को लिखित आवेदन देकर समस्या से अवगत कराने का काम करेंगे। पूर्व में भी चंदवा के पूर्वी पश्चिमी क्षेत्रों में पाइप के माध्यम से पानी पहुंचाने का योजना की गई थी जो आज पूरी तरह भ्रष्टाचार का भेंट चढ़ गया है और बंद हो गया है। इधर चंदवा की जनता पीएचडी विभाग के जेई सुनील कुमार को कहीं गांव में या अन्य किसी जगह पर किसी तरह का प्रॉब्लम होता है तो उनके द्वारा कहा जाता है कि नल का सामान हमारे पास अभी नहीं है। चापा नल हमेशा के लिए खराब ही रहती है। बताते चले कि पीएचडी विभाग के लोग ऐसा कहने का आदि बने हुए हैं।

Related Post