Sun. May 26th, 2024

कैथोलिक होने का अर्थ देश से प्यार करना, अच्छा नागरिक बनना…वेटिकन के दूत जिरेल्ली

कैथोलिक होने का अर्थ देश से प्यार करना, अच्छा नागरिक बनना…वेटिकन के दूत जिरेल्ली

महुआडांड़ संवाददाता शहजाद आलम की रिपोर्ट

कैथोलिक होने का अर्थ है देश से प्यार करना।अच्छा नागरिक बनना. ये बातें वेटिकन के राजदूत और पोप फ्रांसिस के प्रतिनिधि अपोलोस्तिक नुनसियो आर्चबिशप लियोपोल्दो जिरेल्ली ने बुधवार को झान कैथोलिक युवा सम्मेलन के समापन समारोह में कहीं।

कैथोलिक युवा सम्मेलन का समापन

लियोपोल्दो जिरेल्ली डालटेनगंज कैथोलिक आर्चडायसिस के महुआडांड़ स्थित संत जोसेफ चर्च परिसर में आयोजित तीन दिवसीय झारखंड और अंडमान (झान) कैथोलिक युवा सम्मेलन के समापन समारोह में शामिल होने के लिए झारखंड आये थे।

 

आग जलती रहे।

लियोपोल्दो जिरेल्ली ने कहा कि इस सम्मेलन का विषय छोटानागपुर के प्रेरित फादर कांस्टेंट लीवंस का कथन ‘आग जलती रहे’ है़ आग की दो विशेषताएं होती हैं।यह रोशनी देती है और यह हमें ऊष्मा भी प्रदान करती है़ ।प्रभु के प्यार की रोशनी हमें भविष्य का रास्ता दिखाती है़ उनके प्रेम की ऊष्मा हममें आये, जिसे हम जरूरतमंदों तक पहुंचायें

 

झारखंड में नैसर्गिक सौंदर्य के साथ है गरीबी भी

उन्होंने कहा कि कैथोलिक होने का अर्थ देश से प्यार करना, अच्छा नागरिक बनना है़ युवा इस राज्य के भविष्य हैं। यहां आते समय उन्होंने यहां की प्राकृतिक सुंदरता देखी।यहां नैसर्गिक सौंदर्य है। लेकिन साथ में गरीबी भी है़ कैथोलिक युवाओं के लिए अच्छा नागरिक बनने का अर्थ है कि वे अच्छे लीडर बनें, धर्मसमाजी बनें और लोगों की सेवा करे़ं।

 

रांची के आर्चबिशप समेत कई बिशप हुए शामिल।

सम्मेलन में रांची के आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो, डालटेनगंज के अपोस्तोलिक एडमिनिस्ट्रेटर बिशप थियोडोर मस्करेंहास, खूंटी के बिशप विनय कंडुलना, जमशेदपुर के बिशप तेलेस्फोर बिलुंग, सिमडेगा के बिशप विंसेंट बरवा, दुमका के बिशप जूलियस मरांडी, पोर्ट ब्लेयर के बिशप विश्वासम सेल्वाराज, गुमला के अपोस्तोलिक एडमिनिस्ट्रेटर फादर लिनुस पिंगल एक्का शामिल हुए।

 

युवा सम्मेलन में ये भी थे मौजूद।

सम्मेलन में ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेटा डिसूजा, मांडर की विधायक शिल्पी नेहा तिर्की, पूर्व शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की, मानिका के विधायक रामचंद्र सिंह, पलामू के डीआइजी राजकुमार लकड़ा, लातेहार के एसपी अंजनी अंजन, एसडीओ नीत निखिल सुरीन, डीएसपी राजेश कुजूर, दंडाधिकारी जितेंद्र कुमार, बीडीओ आमरेन डांग और विभिन्न डायसिस के साढ़े पांच हजार से अधिक युवा शामिल हुए़ ।

 

गुरुवार दिल्ली रवाना होंगे लियोपोल्दो जिरेल्ली

आर्चबिशप लियोपोल्दो जिरेल्ली गुरुवार की सुबह डालटेनगंज डायसिस में ही अन्य एक कार्यक्रम में शामिल होकर रांची लौटेंगे़ वे गुरुवार की शाम नयी दिल्ली के लिए प्रस्थान करेंगे।

 

तीन दिवसीय कैथोलिक युवा सम्मेलन का हुआ समापन।

समापन समारोह में भारत में पोप के दूत अपोस्तोलिक नून्सीयो आर्च बिशप लियोपोल्दो गिरेल्लि भी हुए शामिल।झारखंड और अंडमान निकोबार द्वीप समूह के लगभग 5000 कैथोलिक युवा के साथ–साथ 200 कैथोलिक पुरोहित और 200 स्वंयसेवक मौजूद थे। समापन कार्यक्रम में शामिल होने आए पोप के दूत अपोस्तोलिक नून्सीयो आर्च बिशप लियोपोल्दो गिरेल्लि का स्वागत पारंपरिक तरीके से किया गया।जिसके बाद उन्होंने  युवाओं के लिये अंग्रेजी में पवित्र मिस्सा किया।वही कार्यक्रम में भारी संख्या में युवाओं की उपस्थिति देख पोप के दूत अपोस्तोलिक नून्सीयो आर्च बिशप लियोपोल्दो गिरेल्लि ने प्रसन्नता व्यक्त की साथ ही उन्होंने अपने मिस्सा संदेश में महुआडांड़ सहित पलामू प्रमंडल की सुंदरता की सराहना भी की साथ ही युथ मीट में दिए गए नवयुवकों को संदेश में येसु के प्रेम को अपने अन्दर जलाए रखने को कहा जिससे लोग उनकी ओर आकर्षित हो।इस मौक़े पर स्थानीय विधायक रामचंद्र सिंह ने भी लोगो को संबोधित किया।वही इस कार्यक्रम को सफल बनाने ने युथ मीट में शामिल युवक-युवकतियों ने अपना भरपूर सहयोग दिया।वही युवाओं ने युथ मीट सम्मेलन को शिक्षाप्रद बताया।वही अंत में धन्यवाद ज्ञापित कर सम्मेलन की समाप्ति की गई।

Related Post