Sun. Apr 14th, 2024

अम्बाकोठी में श्रीरामचरितमानस नवाह्न परायण पाठ महायज्ञ समिति के 49 वें अधिवेशन का मुख्यअतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर किया उद्घाटन

*अम्बाकोठी में श्रीरामचरितमानस नवाह्न परायण पाठ महायज्ञ समिति के 49 वें अधिवेशन का मुख्यअतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर किया उद्घाटन*

लातेहार अजय सिन्हा की रिपोर्ट

लातेहार : -शहर के अंबाकोठी स्थित लातेहार में श्रीरामचरितमानस नवाह्न परायण पाठ महायज्ञ समिति के 49 वें अधिवेशन का उद्घाटन सोमवार को झारखंड विधानसभा के प्रथम अध्यक्ष इंदर सिंह नामधारी व समिति के मुख्य संरक्षक सह लातेहार विधायक वैद्यनाथ राम ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए झारखंड विधानसभा के प्रथम अध्यक्ष इंदर सिंह नामधारी ने कहा कि दो साल कोरोना महामारी रहने के कारण लातेहार नहीं आ सकें। दो साल में आने के बाद लगा कि लातेहार में कुछ बदलाव सा नजर आया। उन्होंने कहा कि लातेहार जिला से मेरा अटूट रिश्ता रहा है। उन्होेंने कहा कि आज पूरे देश आजादी के अमृत महोत्सव मना रहे हैं। लेकिन 75 वर्ष के बाद भी देश में राम का अनुश्रवण नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैं जेल में रहते हुए श्रीरामचरितमानस पाठ पढ़कर मैं जाना कि रामायण के हर चौपाई में संदेश छिपा हुआ है। सिर्फ मानस पाठ करने से समाज में परिवर्तन संभव नहीं है, बल्कि हर मनुष्य को इसे अपने जीवन में उतारने की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा कि जहां नारियों की पूजा होती है, वहीं देवताओं का वास होता है। तेजी से बढ़ती महिला हिंसक वारदातों पर चिंता जताते हुए कहा कि कन्याएं पवित्रता की प्रतीक हैं। उन्होंने कहा कि आज कई जगहों पर नफरत बढ़ रही है। लेकिन लातेहार के लोगों ने आपसी सौहार्द की मिसाल कायम की है। लातेहार अंबा कोठी में एक तरफ राम व दूसरे तरफ रहीम गुणगान किया जाता है। जिससे लोगों को सीख लेने की जरूरत है। आज लोगों को राम के अनुश्रवण से आत्मसात करने की जरूरत है। मुख्य संरक्षक सह लातेहार विधायक वैद्यनाथ राम ने कहा कि 1974 ई. से शुरू होकर आज 49 वां वर्ष मना रहे हैं। ईश्वर के प्रति अटूट आस्था का नतीजा है कि इतने वर्षों से पाठ सफलतापूर्वक संपन्न हो रहा है।उन्होंने कहा आपसी सौहार्द के साथ हमलोग मिलकर दशहरा मनाते आ रहे है। कार्यक्रम में मंच का संचालन सुनील शौण्डिक व धन्यवाद ज्ञापन समिति के अध्यक्ष प्रमोद प्रसाद सिंह ने किया। इस मौके पर अनिल भारद्वाज, गोपाल उपाध्याय, मुना उपाध्याय, सुदामा प्रसाद गुप्ता, मुकेश पांडेय, विनोद महलका, महेंद्र गुप्ता,मदन प्रसाद, संतोष अग्रवाल, शशि सिंह, अनिल कुमार गुप्ता,अंकित पांडेय, कौशल कुमार पांडेय, रामदेव सिंह, गणेश प्रसाद, अश्वनी सिंह उर्फ मिठू सिंह, निर्दोष गुप्ता, संतोष पासवान, अशोक महलका, डॉ. विनय कुमार, किरण चंद्रवंशी, दीपक विश्वकर्मा, अर्जुन दास, भोला प्रसाद समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

Related Post