Mon. Jun 24th, 2024

चंदवा थाना क्षेत्र के सासंग पंचायत अंर्तगत सिकनी गांव में 20 दिन के शिशु की मौत के बाद परिजनों ने एएनएम पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

चंदवा थाना क्षेत्र के सासंग पंचायत अंर्तगत सिकनी गांव में 20 दिन के शिशु की मौत के बाद परिजनों ने एएनएम पर लापरवाही का आरोप लगाया है।
मृतक शिशु की माता शीलम देवी और पिता धमेंद्र कुमार मेहता समेत अन्य परिजनों का कहना है कि 7 सितंबर को बच्चे को बीसीजी व पोलियो का टीका लेने के लिए आंगनबाड़ी केंद्र बुलाया गया था। तब उनलोगों ने एएनएम को बताया कि बच्चे को कपर फूटी बीमारी और बुखार है। जिसका इलाज चल रहा है। ऐसी स्थिति में इतने छोटे बच्चे को टीका लगाना उचित नहीं है।

टीका से किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होगी कहते हुए एएनएम ने उनकी मनाही के बावजूद टीका लगा दिया।

टीका लगने के साथ ही बच्चे की तबियत और बिगड़ गई। बच्चे को सांस लेने में आई दिक्कत के बीच वो उसे सदर अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सक ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।

उनका आरोप था कि बच्चे की मौत की वजह बीमार होने के बावजूद किया गया टीकाकरण है।

सदर अस्पताल में लोग ऐसा कह रहे थे। स्वजनों ने एएनएम पर कार्रवाई करने की मांग संबंधित विभाग से की है। एएनएम से संपर्क नहीं हो पाने के कारण उसका पक्ष कथन नहीं लिया जा सका।

कहते हैं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी

सीएचसी प्रभारी डा. एनके पांडेय ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है। जांच की प्रक्रिया प्रगति पर है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। एएनएम को केंद्र से हटा दिया गया है।

Related Post