Fri. Jun 21st, 2024

खेल मानसिक और शारीरिक क्षमता का करता है विकास -विधायक बैजनाथ राम।

*खेल मानसिक और शारीरिक क्षमता का करता है विकास -विधायक बैजनाथ राम।*

*चंदवा प्रखंड के डूमारो पंचायत में पांच दिवसीय फुटबाल टूर्नामेंट काj आयोजन मां सरना स्पोर्ट्स क्लब के अंतर्गत किया गया, इस टूर्नामेंट में 32 टीमों ने भाग लिया। मैच का उद्घाटन झामुमो युवा नेता शुभम कुमार गिरी एवम डूमारो मुखिया विद्यानंद सिंह ने खिलाड़ियों का परिचय प्राप्त करके एवं फुटबॉल को किक मारकर किया। फाइनल मैच में रलिया की टीम ने बिंजा की टीम को 2-1 से हराया। इस टूर्नामेंट के मुख्य अतिथि झामुमो लातेहार के लोकप्रिय विधायक श्री बैजनाथ राम ने विजेता टीमों के बीच पुरस्कार का वितरण किया, विधायक ने खिलाड़ियों एवं आम जनता को संबोधित करते हुए कहा कि इतने सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में इस तरह का भव्य आयोजन ग्रामीण क्षेत्रों कि खेल प्रतिभा को निखारने का अवसर प्रदान करता है। विधायक श्री बैजनाथ राम ने यह भी कहा कि खेल और खिलाड़ियों के विकास में झारखंड सरकार खेल के माध्यम से जुड़े युवाओं की प्रतिभा को निखारने में भरपूर सहायता करेगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारी हेमंत सरकार खिलाड़ियों को प्राथमिकता के आधार पर नौकरी के अवसर प्रदान कर रही है इसलिए आप लोग सभी पूरी मेहनत से खेल पर अपना ध्यान दें। इस अवसर पर विधायक ने मनरेगा योजना (वीर शहीद पोटो खेल योजना) के तहत बने डूमारो फुटबॉल मैदान की काफी सराहना की, ज्ञात हो कि झारखंड सरकार ने वीर शहीद पोटो खेल विकास मनरेगा योजना के अंतर्गत पूरे राज्य में वृहद स्तर पर फुटबॉल मैदान का निर्माण कराया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए झामुमो युवा नेता शुभम कुमार गिरि ने कहा कि युवा खेल के माध्यम से अपना सुनहरा भविष्य बना सकते हैं साथ ही झारखंड सरकार के खेल नियोजन नीति का लाभ ले सकते हैं। इस अवसर पर श्री गिरी ने कहा कि युवा नशा छोड़ कर अपने खेल की तरफ पूरा ध्यान दें। फुटबॉल टूर्नामेंट के अवसर पर स्थानीय कलाकारों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर झामुमो प्रखंड अध्यक्ष सुरेश गंझू,प्रखंड सचिव मो सरफराज, राजकुमार साहू,राजू गुप्ता,युवा नेता अंकित पांडेय, वरिष्ठ कार्यकर्ता सुदामा प्रसाद,रामभजन सिंह,पंचायत अध्यक्ष केश्वर सिंह,दीपक प्रजापति,रामेश्वर गंझू, संजय मुंडा, अंकित मुंडा, मनीष उरांव,प्रदीप सिंह,दामोदर सिंह, भुनेश्वर महतो, दरबारी सिंह, वीरेंद्र राम, झरी मुंडा, सुनील उरांव, नारायण सिंह, रमेश टाना भगत इत्यादि अन्य उपस्थित थे।*

Related Post