Mon. Jun 24th, 2024

 सीसीएल की आम्रपाली परियोजना में सीबीआई की जाँच की चहल कदमी जोरों से चल रहा है

 

 

*सीसीएल की आम्रपाली परियोजना में सीबीआई की जाँच की चहल कदमी जोरों से चल रहा है* ।

 

 

 

*सेंट्रल कॉलफिल्ड लिमिटेड व आम्रपाली परयोजना में कार्य कर रही AMPL -MIPL के दप्तर तथा बंगाल में माँ अम्बे कम्पनी के कार्यलय में सीबीआई की छापा पड़ा*। और सी.सी.एल. के पूर्व पी.ओ. डिकेशर्मा के आवास ,आम्रपाली परियोजना और लक्ष्मी कम्पनी में तथा राँची कार्यलय में भी , सोमवार दिनांक 23 अक्टूबर को पी.ओ. कार्यलय में भी सीबीआई का जाँच टीम ने कार्यलय का खंगला गया था ।

सीसीएल और कम्पनी की साठ – गांठ कर काफ़ी दिनों से बिना कांटा किए शिवपुर साइडिंग की कोयला ढुलाई होता था जिसमें GCL (JV ) नकाश कम्पनी , टॉस्पॉटिंग का कार्य करता था ,83 करोड़ 63 लाख 64 हजार 471 रुपये का घोटाले का बात सामने आया था ।कोयले घोटाले की उध्भेदन के लिए सीबीआई की पहल जोरों से चल रहा है जिसमें आज तीन जगहा सीबीआई का छापा ,पड़ा है ,

सीसीएल तथा कम्पनी के आम्रपाली परियोजना में खुलेगी कई राज अधिकारीओं में दहशत का महौल बना हुआ है आम्रपाली में काला करतूतों का किया जायगा खुलाशा ।

सीसीएल की आम्रपाली परियोजना में करोड़ो का कोयला गायब का सीबीआई द्वारा प्राथमिक दर्ज किया गया था जिसमें सीबीआई राँची के द्वारा सीसीएल की जाँच टीम के औचक निरीक्षण में चतरा जिले के टंडवा प्रखंड के आम्रपाली एरिया के कोयला स्टॉक से आठ लाख 75 हजार 774 मीट्रिक टन कोयला गायब का मामला सामने आया था भष्टाचार निरोधक ब्यरो ने आम्रपाली परियोजना के प्रोजेक्ट अधिकारी, मैनेजर सीनियर मैनेजर सहित सात नामजद व अन्य के ऊपर अज्ञात के विरुद्ध प्रथामिक दर्ज की गई है आरोपित पर एक आपराधीक साजिश के तहत फर्जी दस्तावेज पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगा है मामले में अनुसधान की जिम्मेदारी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यरो राँची के इंस्पेक्टर रवि शंकर प्रसाद को सौपीं गई है ।

Related Post