Fri. Jun 21st, 2024

प्रतिबंधित अश्लील वीडियो देख कर यौन शोषण करता था पति,प्राथमिकी दर्ज आरोपित कारोबारी पति की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी।

*प्रतिबंधित अश्लील वीडियो देख कर यौन शोषण करता था पति,प्राथमिकी दर्ज*

 

 

*आरोपित कारोबारी पति की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी।*

 

 

 

झारखंड के रामगढ़ में पति पर प्रतिबंधित अश्लील वीडियो देख कर यौन शोषण करने की प्राथमिकी ,

पत्‍नी द्वारा यौन शोषण की प्राथम‍िकी दर्ज कराने का यह पहला मामला है।

 

*रामगढ़* । रामगढ़ शहर के चर्चित कारोबारी राजेंद्र स‍िंंह उर्फ राजू के खिलाफ उनकी पत्नी ने महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। पीडि़ता ने अश्लील वीडियो देखकर यौन शोषण, दुराचार और प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। आरोपित राजेंद्र सिंह शहर के चुटूपालू स्थित नानक ढाबा के संचालक भी हैं। यह मामला इलाके में चर्चा का विषय बन गया है।

 

बुधवार को महिला थाने में दर्ज प्राथमिकी में पत्नी ने आरोप लगाया है कि उसके पति स्मार्ट फोन पर अश्लील वीडियो देख कर जबरन यौन शोषण और दुराचार करते हैं। यही नहीं प्रताडि़त भी करते हैं। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने कानूनी प्रक्रिया तेज कर दी है। गुरुवार को रामगढ़ सदर अस्पताल में पुलिस ने पीडि़ता की मेडिकल जांच भी कराई।

मालूम हो कि पत्नी द्वारा पति पर जबरन यौन शोषण, दुराचार और प्रताडऩा का यह जिले में पहला मामला है। पीडि़ता ने दर्ज प्राथमिकी में कहा है कि वह अपने पति व पूरे परिवार के साथ रामगढ़ में ही रहती है। शादी के छह महीने बाद घर में पति राजेंद्र सिंह शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त करने लगे। पति अपने होटल नानक ढाबा व घर में आने के बाद मोबाइल पर अश्लील वीडियो देखते हैं। वीडियो देख कर उसी तरीके से जबरन अनैतिक दुराचार करते हैं। पीडि़ता ने कहा कि पति उसके दोनों बच्चों के साथ मारपीट भी करते है। उसकी दो बहनों के साथ मोबाइल पर अश्लील बातें करते थे।

पीडि़ता के अनुसार, पति की इस तरह की प्रताडऩा से तंग आकर उसने पहले दहेज मुक्त झारखंड संस्था के राष्ट्रीय संस्थापक डॉ आनन्द कुमार शाही को लिखित जानकारी दिया ,संस्था ने पीड़िता के आवेदन को देखते हुए रामगढ़ थाने में आनलाइन शिकायत दर्ज कराई थी। फिर दहेज मुक्त झारखंड संस्था के डॉ आनन्द कुमार शाही ने रामगढ़ की टीम को लेकर पीडि़ता के साथ बुधवार को रामगढ़ एसपी से मिलकर अपनी आपबीती सुनाई। इसके बाद एसपी प्रभात कुमार के निर्देश पर आरोपित पति राजेंद्र सिंह के विरुद्ध रामगढ़ महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई। प्राथमिकी दर्ज होते ही आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने छापेमारी शुरू कर दी है।

 

दहेज मुक्त झारखंड के संस्थापक डॉ आनन्द कुमार शाही ने रामगढ़ प्रसासन को तुरंत कार्यवाही करने के लिए धन्यवाद दिया साथ ही संस्था ने प्रसासन से मांग किया की ऐसे मानसिकता वाले लोगो को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दे । संस्था के रामगढ़ टीम सिंधु मिश्रा जी,मुबारक हुसैन जी,शिव कुमारी जी,रेखा रानी जी को धन्यबाद जिन्होंने मामले को अच्छी तरीके से छानबीन कर पीड़िता को मदद किया ।

 

इधर पीड़िता ने दहेज मुक्त झारखंड संस्था को धन्यबाद दिया कि संस्था आज नही रहती तो हम इतना हिम्मत नही करते ।

Related Post