Fri. Jun 21st, 2024

चंदवा। त्याग और बलिदान का मुहर्रम पर्व में नहीं निकला ताजिया जुलूस, परंपरा का निर्वहन किया,

त्याग और बलिदान का मुहर्रम त्योहार सादगी से मनाया गया

 

मुहर्रम में नहीं निकला ताजिया जुलूस, परंपरा का निर्वहन किया

 

या हुसैन या अली के नारे लगाए गए

 

चंदवा। त्याग और बलिदान का मुहर्रम पर्व में नहीं निकला ताजिया जुलूस, परंपरा का निर्वहन किया,

मुहर्रम का पारंपरिक पर्व शुक्रवार को सादगी से मनाया गया, शिर्फ परंपरा का निर्वहन किया, प्रदेश भर में लॉकडाउन और धार्मिक आयोजनों पर पाबंदी के चलते दसवीं पहलाम के मौके पर आयोजित होने वाला अलम, ताजिया, सिपर अथवा अखाडे़ का कोई जुलूस नहीं निकल सका, सुन्नी समुदाय में मुहर्रम के अवसर पर अकिदत मंदों ने रोजा रखा,

मुहर्रम कमिटियों ने ताजिया का मिलान गांव मे किया, रश्म अदायगी की, कामता, शुक्रबजार, बेलवाही, मजीद खान ने ताजिया का निर्माण किया था,

हुसैनी झंडा निशान का मिलान पूर्व की तरह कामता चेकनाका, हरैया मोड़, सुभाष चौंक, मेन रोड इंदिरा गांधी चौंक में किया गया, फात्हा कर परंपरा का निर्वहन किया, जिला प्रशासन के साथ साथ मुहर्रम कमिटियों ने भी जिले वासियों से मुहर्रम पर किसी प्रकार का आयोजन नहीं करने, कोरोना गाईडलाइन का पालन करने की अपील की थी,

चंदवा में पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी मदन कुमार शर्मा के नेतृत्व में पुलिस बल विधि – व्यवस्था संभाले हुए थे, कर्बला में सलाम फात्हा के साथ मुहर्रम संपन्न हो गया, मौके पर

ग्यास खान, अयुब खान, असगर खान, बाबर खान, इरफान खान फानु, शाहीद खान, रसीद मियां, असरफ टेलर, सदुल खान, रबुल खान, जावेद खान, मनाजरूल खान, हैदर मियां, शाहबान खान, जलील खान, अनवर खान, जमरुल खान, समीर खान, रिजवान खान, सरफुद्दीन मियां, फिरोज खान, मो0 मुस्तक, मो0 मोकतार, रमजान साई चिस्ती, रियाजुल खान, सुलतान खान, कलाम कादरी, अमजद खान, जसीम बाबा, सदाम खान, इमरान खान, मलीजान खान, नेजाबु मियां, इबरार खान, बारीक खान, अलताफ खान, नौसाद खान, रेहान खान, रिजवानुल राईन, मोफील खान, इफ्तेखार खान, जाकीर खान, असलम खान, इसलाम खान, नसरूदीन मियां, वाजीद खान, साबीर खान, समेत कई लोग शामिल थे।

Related Post