Mon. Jun 24th, 2024

महुआडांड़ पानी टंकी में के उपर तल्ले से गिरने से तीन मजदूर की हुई मौत।

पेयजल आपूर्ति विभाग द्वारा शहरी पेयजल आपूर्ति योजना के तहत 44 करोड़ की लागत से बन रहे चम्पा पंचायत के मेराम गांव मे पानी टंकी में सीढ़ी चढ़ाने के क्रम में पिलर टूट जाने की वजह से तीन मजदूर नूर हसन (36), मनीर अंसारी (42) एवं फुलकार अंसारी (30) की मृत्यु हो गई। तीनो मजदूर धनबाद के संज्ञाटांड़ के रहने वाले थे। यह घटना 12:30 बजे की है।

 

*मजदुर जाकिर अंसारी ने कहा रास्ते में ही तीनों की मौत हो गई*

 

मजदूर मोहम्मद जाकिर अंसारी ने बताया कि हमलोग पानी टंकी की सीढ़ी चढ़ा रहे थे। अचानक सिढ़ी के साथ मजदूर गिर कर घायल हो गए। सभी घायलों मजदूरों को महुआडांड़ अस्पताल लाया गया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार कर बेहतर इलाज के लिए लातेहार सदर अस्पताल रेफर कर दिया। घायलों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल लातेहार लाने के दौरान रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

 

*यहा कार्य के दौरान सेफ्टी मैनेजमेंट का पालन नही किया जा रहा था। एसडीओ महुआडांड़*

 

 

घटना की सूचना मिलते ही महुआडांड़ अनुमंडल पदाधिकारी नित निखिल सुरीन एवं थाना प्रभारी असीम रजक दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और घटना के बारे में विस्तृत जानकारी ली।इस संबंध मे एसडीओ श्री सुरीन ने बताया कि मामले की जानकारी जिला उपायुक्त को दे दी गई है,घटनास्थल की जांच के क्रम में लोगों से जानकारी प्राप्त हुई कि सीढ़ी चढ़ाने के क्रम में यह घटना मजदूर के साथ घटी है। यहा कार्य के दौरान सेफ्टी मैनेजमेंट का पालन नही किया जा रहा था। पिलर मे झड़ भी नही लगाया गया है।सभी मजदूरों के परिवारों को सरकारी प्रवधान के तहत मुआवजा दिलाया जाएगा।

 

 

*लगभग 80 फ़ीट के उंचाई से तीनों गिरे।प्रत्यक्षदर्शी राजेश हुरुहुरिया *

 

वहीं इस संबंध में मेराम गांव के प्रत्यक्षदर्शी राजेश हुरुहुरिया ने बताया कि लगभग दोपहर 12:30 मे तीनों मजदूर अन्य पांच मजदूरों के साथ पानी टंकी के सबसे ऊपरी तल्ले में सीढ़ी चढ़ा रहे थे। इसी दौरान खराब गुणवत्ता के कारण पिलर टूट गया जिसकी वजह से तीन मज़दूर लगभग 80 फ़ीट की ऊँचाई से सीधे जमीन पर आ गिरे, जिससे तीनो गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें अन्य काम कर रहे अन्य मजदुरो एवं गांव के ग्रामीण के सहयोग से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महुआडांड ले जाया गया। महुआडांड सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजो की गंभीर हालत को देखते हुए तीनो को लातेहार रेफर कर दिया गया। जहाँ रास्ते में ही तीनो की मृत्यु हो गई।

 

Related Post