Sun. Jun 23rd, 2024

अगस्त क्रांति को याद कर माले तथा किसान महासभा ने मनाया विरोध दिवस। काले कृषि कानूनों को वापस कर एमएसपी कानून लागू करने की मांग की।

*अगस्त क्रांति को याद कर माले तथा किसान महासभा ने मनाया विरोध दिवस।*

 

*काले कृषि कानूनों को वापस कर एमएसपी कानून लागू करने की मांग की।*

 

भाकपा माले, अखिल भारतीय किसान महासभा सहित कई अन्य जन संगठनों ने मिलकर, आज 9 अगस्त ‘अंग्रेजों भारत छोड़ो’ आंदोलन की बरसी पर, मोदी सरकार के खिलाफ विरोध दिवस मनाते हुए किसानों के खिलाफ लाए गए तीनों काले कानूनों को वापस करने एवं किसानों के हक में ‘एमएसपी’ का कानून लागू करने की जोरदार तरीके से मांग की।

 

ऐसे ही एक कार्यक्रम का आयोजन गिरिडीह में किया गया जिसकी अगुवाई भाकपा माले के राज्य कमेटी सदस्य राजेश कुमार यादव, अखिल भारतीय किसान महासभा के प्रदेश अध्यक्ष पूरन महतो एवं गिरिडीह विधानसभा माले प्रभारी राजेश सिन्हा ने संयुक्त रूप से की। कार्यक्रम के तहत झंडा मैदान से टावर चौक तक एक विरोध मार्च निकालकर लोगों को संबोधित किया गया।

 

नेताओं ने अपने वक्तव्य में कहा कि, मोदी सरकार इस देश के किसान-मजदूरों के खिलाफ बड़ी साजिश के तहत एक तरफ किसान विरोधी काले कानून ले आई है, वहीं मजदूरों के खिलाफ भी उनके लिए पुराने अधिकारों को खत्म कर लेबर कोड लागू करने की फिराक में है।

 

कहा कि, 9 अगस्त के दिन अंग्रेजों को भारत से खदेड़ने के लिए देशव्यापी आंदोलन का आह्वान किया गया था। आज उस आंदोलन को याद करते हुए मौजूदा समय इस देश पर फासीवादी ताकतों के द्वारा फिर से थोपे जा रहे कंपनी राज के खिलाफ आंदोलन का बिगुल फूंका जा रहा है। जिस तरह अंग्रेजों की नहीं चली, उसी तरह यहां फासीवादियों की साजिश भी नहीं चलेगी। देश के मजदूर-किसान और सभी मेहनतकश मिलकर इस लड़ाई को लड़ते हुए फासीवादियों को पीछे धकेल देंगे।

 

माले एवं किसान महासभा के नेताओं ने एक स्वर में मोदी सरकार से किसान विरोधी तीनों काले कानून वापस लेने, श्रमिकों को पहले से मिले हुए अधिकारों को पुनः बहाल करने सहित जेल में बंद सभी किसान नेताओं व सामाजिक-मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को रिहा करने, कोरोना जनसंहार में मारे गए लोगों को मुआवजा देने, महंगाई पर रोक लगाने, किसानों एवं सभी गरीबों का बिजली बिल माफ करने, किसानों द्वारा पैक्सों में दिए गए धान के बकाए का तत्काल भुगतान करने की मांग की।

संवाददाता डिंपल की रिपोर्ट गिरिडीह

आज के कार्यक्रम में मुख्य रूप से किसान महासभा नेता मुस्तकीम अंसारी, पप्पू खान, मनोज यादव, प्रीति भास्कर, बॉबी देवी, नौशाद अहमद चांद, उज्ज्वल साव, मो0 सलमान, निशांत भास्कर, संजय चौधरी, लालजीत दास, कन्हैया सिंह, रुस्तम अंसारी, सनातन साहू, सोनू रवानी, रंजीत राम, सलाउद्दीन, सोनल अंसारी, गुड़िया देवी, उगनी देवी, पिंटू रजवार समेत अन्य मौजूद थे।

Related Post