Fri. Jun 14th, 2024

माननीय झालसा, रांची के निर्देशानुसार आज दिनांक 10 जुलाई 2021 को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन माननीय न्यायमूर्ति, झारखंड उच्च न्यायालय सह कार्यकारी अध्यक्ष, झालसा, रांची न्यायमूर्ति श्री अपरेश कुमार सिंह

 

**संवाददाता डिंपल की रिपोर्ट गिरिडीह**

माननीय झालसा, रांची के निर्देशानुसार आज दिनांक 10 जुलाई 2021 को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन माननीय न्यायमूर्ति, झारखंड उच्च न्यायालय सह कार्यकारी अध्यक्ष, झालसा, रांची न्यायमूर्ति श्री अपरेश कुमार सिंह के पावन कर कमलों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय न्यायमूर्ति सह कार्यकारी अध्यक्ष झालसा, रांची श्री अपरेश कुमार सिंह ने कहा कि कोविड-19 रुपी इस वैश्विक महामारी के संकट काल में आमजन एवं पक्षकारों को लाभ प्रदान करने हेतु माननीय नालसा, नई दिल्ली के निर्देश पर पूरे देश में आज के दिन राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन वर्चुअल तथा हाइब्रिड मोड में किया जा रहा है। झालसा रांची के द्वारा झारखंड राज्य के सभी न्यायालयों में लंबित एवं प्री लिटिगेशन मामलों का निष्पादन इस राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से किया जा रहा है। इस प्रकार के आयोजनों से पक्षकारों को अपने मामलों में त्वरित निष्पादन का लाभ तो मिलता ही है साथ ही साथ न्यायालय का बोझ भी कम होता है। सुलहनीय आपराधिक मामलों, सिविल मामलों, बैंक मामलों, वाहन दुर्घटना वाद से संबंधित मामलों बिजली, वन विभाग, उत्पाद, माप तौल इत्यादि विभागों से संबंधित मामलों का निष्पादन लोक अदालतों के माध्यम से होने से आम जनों को काफी राहत मिलता है। कोविड-19 के इस दौर में अपने-अपने मामलों को सुलह कराने हेतु गिरिडीह न्याय मंडल के तमाम पक्षकारों, विद्वान अधिवक्ताओं एवं न्यायिक पदाधिकारियों के उत्साह की सराहना करते हुए माननीय न्यायमूर्ति ने सभी को अपने स्तर से धन्यवाद ज्ञापित किया। माननीय न्यायमूर्ति के पावन कर कमलों द्वारा आज मोटर वाहन दुर्घटना वाद के सौलह विभिन्न दावाकर्ताओं को अपने पावन कर कमलों द्वारा कूल 1417156/-रुपए की राशि का चेक वितरित किया।

 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष महोदया, जिला विधिक सेवा प्राधिकार, गिरिडीह श्रीमती वीणा मिश्रा ने कहा कि माननीय न्यायमूर्ति महोदय के मार्गदर्शन में गिरिडीह न्यायमंडल में राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने हेतु निरंतर कार्य किया गया, इसमें सभी न्यायिक पदाधिकारियों, सभी विभागों के पदाधिकारियों के साथ, विद्वान पैनल अधिवक्ताओं एवं पारा लीगल वॉलिंटियर्स के साथ कई स्तरों पर ऑनलाइन मीटिंग किया गया। साथ ही संबंधीत न्यायालयों के द्वारा पूर्व से ही मामलों को चिन्हित कर संबंधित पक्षकारों को वर्चुअल तरीके से तथा नोटिस के माध्यम से सूचना प्रदान किया गया था।

कार्यक्रम के बारे में जानकारी प्रदान करते हुए सचिव महोदय, जिला विधिक सेवा प्राधिकार गिरिडीह, श्री संदीप कुमार बर्तम ने कहा कि इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश अध्यक्ष महोदय जिला विधिक सेवा प्राधिकार गिरिडीह के निर्देश पर कुल 9 पीठों का गठन किया गया था, जिसमें सभी पीठों के पीठासीन पदाधिकारियों ने आज इस राष्ट्रीय लोक अदालत के दिन अपने अपने पीठों में आवंटित मामलों को निष्पादित किया।

उन्होंने बतलाया कि आज इस राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 1155 मामलों का निष्पादन किया गया है, जिसमें से 566 प्री लिटिगेशन के मामले तथा 589 लंबित मामले शामिल हैं। कुल सेटेलमेंट राशि 3 करोड़ 43 लाख 94 हजार 358 रुपए है।

इस राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाने में गिरिडीह न्यायमंडल के सभी न्यायिक पदाधिकारियों, विद्वान अधिवक्ताओं, विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों, न्यायालय के कर्मचारियों, पारा लीगल वालंटियर्स, मीडिया कर्मीयों सहित पक्षकारों की सराहनीय भूमिका रही।

 

 

Related Post