Mon. Apr 22nd, 2024

मार्केट में धोनी के फार्म हाउस की सब्जियों की धूम, खेती में आजमा रहे किस्मत

रांची: अपने हेलिकॉप्टर शॉट से लाखों दिलों में राज करने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी खेती-किसानी में किस्मत आज़मा रहे हैं। रांची के धुर्वा स्थित सेंबो फार्म हाउस में कड़कनाथ मुर्गे, डेयरी और खेती के बीच माही अपना शौक पूरा कर रहे हैं।

धोनी के खेत में धान, मटर, टमाटर, ब्रोकली, पत्तागोभी, फूलगोभी और स्ट्रॉबरी की खेती की जा रही है। साथ ही माही के डेयरी फार्म में बड़ी संख्या में देसी-विदेशी गाएं भी रखी गई हैं। धोनी के फार्म हाउस की देखरेख करने वाले रौशन कुमार कहते हैं कि, माही के खेत की सब्जियों की बाज़ार में काफी डिमांड है। धोनी के नाम पर ही सब्जियां बिक जाती हैं।

खास बात ये है कि, खेती में किसी भी प्रकार का केमिकल इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

खेती से माही का लगाव

फल और सब्जियों को लेकर महेंद्र सिंह धोनी के लगाव का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि, माही खुद खेतों में सब्जियों की देखरेख करते हैं। केयर टेकर के साथ घंटों समय ग़ुज़ारते हैं। धोनी के फार्म हाउस की देखरेख करने वाले रौशन कुमार ने बताया कि, रांची के राजकुमार धोनी स्ट्रॉबरी के अलावा मटर से खास लगाव रखते हैं। साथ ही डेयरी फार्म से हरदिन दो सौ से ढाई सौ लीटर दूध बाज़ार में भेजा जाता है। उन्होने बताया कि, माही के नाम से ही लोगों को लगाव है। लिहाज़ा, उनके खेत की फल, सब्जी और दूध लोगों को काफी पसंद आती है।

रांची में कई आउटलेट

माही के आउटलेट की देखरेख करने वाले शिवनंदन कुमार कहते हैं कि, फिलहाल, तीन स्थानों पर फल, सब्जी और दूध बेची जा रही है। हालत ये है कि, जो लोग माही के फार्म हाउस के दूध ख़रीदने आते हैं वहीं लोग सब्जी भी ले जाते हैं। लिहाज़ा, दोपहर तक काउंटर खाली हो जाता है। माही के फार्म हाउस से उत्पादित फल, सब्जी और दूध की मांग काफी ज्यादा है।

माही और कड़कनाथ मुर्गे

माही के फार्म हाउस में कड़कनाथ मुर्गे के चूजे मंगाए गए हैं। फिलहाल, उनकी देखरेख की जा रही है। आने वाले कुछ महीनों में जब कड़कनाथ मुर्गे तैयार हो जाएंगे तो उसे बाज़ार में उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही धौनी के फार्म हाउस में उगाई गई फल, सब्जी और डेयरी के लिए हटिया, पीपी कंपाउंड और दूसरे स्थानों पर आउलेट बनाए गए हैं। आने वाले दिनों में और भी काउंटर तैयार किए जाएंगे। लोगों की तरफ से मिलते रिस्पाउंस को देखते हुए आगे की रणनीति बनाई जाएगी।

Related Post