Sun. Apr 14th, 2024

कुख्यात अपराधी संदीप तिर्की को पीट-पीटकर मार डाला, घेराबंदी करके पकड़ा था खेत में

By Rajdhani News Sep 14, 2020 #apradhi #Gumla #kukhyat

गुमला:-झारखंड के गुमला में जिला मुख्यालय से करीब सात किमी दूर टैंसेरा मोड़ के समीप पारंपरिक हरवे हथियार से लैस गोलबंद ग्रामीणों ने कुख्यात अपराधी एवं पीएलएफआई के हार्डकोर उग्रवादी रहे संदीप तिर्की (30 साल) का सेंदरा (घेरकर शिकार) कर दिया। यह घटना सोमवार सुबह करीब छह बजे की है। पुलिस घटना स्थल पहुंच कर मारे अपराधकर्मी का शव बरामद कर मामले की छनबीन शुरू कर दी है।

ग्रामीणों हाथो मारा गया संदीप तिर्की भी टैंसेरा गांव का ही रहने वाला था। वह पूर्व में कई बार जेल जा चुका था। उसके विरुद हत्या, लेवी वसूली समेत अन्य आपराधिक मामले गुमला समेत जिले के विभिन्न थाना क्षेत्र में दर्ज है। वहीं वर्ष 2005 में बदले की कार्रवाई में उसके परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई थी। घटना के बाबत ग्रामीणों ने बताया कि बरगांव निवासी एक महिला की शिकायत पर पुलिस ने पूरन साहू नामक युवक को पिस्टल समेत रविवार को गिरफ्तार कर जेल दिया था। पूरन को पिस्टल अपराध कर्मी संदीप तिर्की ने ही दी थी। फलस्वरूप वह अपने तीन साथियों के साथ बरगांव पहुंचा । जहां उसने हथियार लहराते हुए ग्रामीणो को सबक सिखाने की धमकी देता रहा। वहीं बरगांव से लौटने के बाद टैंसेरा स्थित घर के पास रहने वाले एक बीएसएनएल के मिस्त्री को बुरी तरह पीट दिया। इस घटना के बाद बरगांव में रात में आस पास के ग्रामीणो की पंचायत लगी। पंचायत मे सर्वसम्मति निर्णय हुआ की पीएलएफआई के पूर्व उग्रवादी औऱ अपराधकर्मी लोगो के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। फलस्वरूप उसका सेंदरा कर दिया जाए।

सोमवार अहले सुबह बरगांव समेत आस पास के गांवो में शंख और घण्ट अचानक बजने लगे। शंख और घण्ट की आवाज सुन सैकड़ो ग्रामीण पारपम्परिक हरवे हथियार के साथ अपने अपने घरों से निकल आये। और अपराध कर्मी संदीप का सेंदरा करने के इरादे से उसके घर की घेरबन्दी चारो ओर से करने लगे। इस दौरान ग्रामीणों की नजर टैंसेरा में सडक पर खड़े पड़ी। संदीप भी पारम्परिक हरवे हथियार से लैस ग्रामीणों को अपने ओर बढ़ते देख आशंका को भांप भागना शुरू कर दिया। बावजूद इसके ग्रामीणों ने दौड़ा कर उसे धान के खेत मे पकड़ लिया। और फिर पीट पीट कर सेंदरा कर दिया। पुलिस के घटना स्थल पहुंचने तक काफी संख्या मे ग्रामीणो की हुजूम मौजूद थी। उधर अपराध कर्मी के मारे जाने से इलाके में आबाद कई गांवों के ग्रामीणों में खुशी की माहौल नजर आई।

कमलेश सिंह

Related Post