Fri. Jun 21st, 2024

अच्छी खबर:जमशेदपुर में बच्चों ने आत्महत्या करने की प्रवृत्ति को मात दी, अधेड़ हारे जाने

जमशेदपुर:जमशेदपुर में बच्चों-छात्रों की आत्महत्या में इस वर्ष आश्चर्यजनक कमी आयी है। इस वर्ष अभी तक 122 लोगों ने आत्महत्या की है जिसमें महज तीन ही छात्र हैं। 89 लोग इनमें ऐसे हैं जिनकी उम्र 35 से 45 वर्ष के बीच की थी। जबकि वर्ष 2019 में 10 छात्रों ने आत्महत्या की थी। इस वर्ष छात्रों की आत्महत्या की दर में 60% तक कमी आना सुखद है।पिछले 10 वर्षों में जमशेदपुर में इस वर्ष 2020 में सबसे कम छात्रों-बच्चों ने आत्महत्या की है। इस वर्ष लॉक डाउन के चलते भले ही स्कूल-कालेज बंद हों लेकिन छात्रों पर दूसरे दबाव कम नहीं हैं, लेकिन इसके बावजूद हमारे छात्रों ने हालात के साथ संघर्ष कर खुद को संभाले रखा। कठिन परिस्थितियों में भी हार को हराकर जीत गए हैं हमारे बच्चे।

Related Post