Sun. Apr 14th, 2024

सहयोग की अपील:कांटेक्ट ट्रेसिंग में सहयोग नहीं करने वालों पर होगा एफआईआर

By Rajdhani News Sep 2, 2020 #corona #jamshedpur

जमशेदपुर : -अगर कोई व्यक्ति कांटेक्ट ट्रेसिंग में सहयोग नहीं करता है तो ऐसे लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर कारवाई करने का निर्देश उपायुक्त ने संबंधित सभी इंसिडेंट कमांडर को दिया है. मंगलवार को उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला समाहरणालय में कोविड 19 के संबंध में बैठक का आयोजन किया गया. इस बैठक में जिसे के एसएसपी एम तमिल वाणन, एडीसी सौरभ सिन्हा, सिविल सर्जन डा आर एन झा , टीएमएच के जीएम, तीनों निकाय के कार्यपालक पदाधिकारी, सर्विलांस ऑफिसर, एमजीएम मेडिकल कॉलेज के प्रिसिंपल सहित सभी इंसिडेंट कमांडर मौजूद थे. बैठक में टाटा मोटर्स को कोविड बेड बढ़ाने का निर्देश दिया गया. सिविल सर्जन डॉ आर एन झा को टीेमएच को एक और ट्रुनेट मशीन उपलब्ध कराने को कहा. सभी लोगों से अपील की गई है कि संदिग्ध लोग अपना कोडि जांच जरूर कराएं.

* शहर में रैपिड टेस्ट सेंटर की शुरूआत
प्रशासन द्वारा 31 अगस्त 2020 से 5 रैपिड टेस्ट सेंटर शुरू किया गया है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सामुदायिक केन्द्र समेत कुछ स्थानों पर रैपीड टेस्ट सेंटर की शुरूआत की गई है। जहां जिलेवासी कोविड-19 जांड करा सकते हैं। उपायुक्त ने कहा कि इंसिडेंट कमांडर, सर्विलांस दल की अनुशंसा तथा चिकित्सक के अनुमति के बिना कोई भी व्यक्ति होम आईसोलेशन में नहीं रहेंगे।

* कोविड सस्पेक्टेड वार्ड नहीं होने पर होगी कारवाई
उपायुक्त ने कहा कि पूर्व में ही सभी निजी अस्पतालों, नर्सिंग होम में कोविड सस्पेक्टेड वार्ड बनाने का निर्देश दिया गया था, जिन अस्पतालों में कोविड सस्पेक्टेड वार्ड नहीं है उनके विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। वैसे मरीज जो कोरोना संक्रमित नहीं हैं उनका इलाज प्राथमिकता के आधार पर निजी अस्पतालों, सीएचसी, पीएचसी में करने का निर्देश दिया गया है जिससे डेडिकेटेड कोविड अस्पताल पर अनावश्यक दवाब ना पड़े। उपायुक्त द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, इंसिडेट कमांडर, पुलिस उपाधीक्षक, थाना प्रभारी को निदेशित किया गया कि उनके पोषक क्षेत्र में कितने अस्पताल, डिस्पेंसरी जो पूर्व में संचालित थे लेकिन कोरोना काल में बंद पड़े हैं, इसकी सूची बनाकर जिला मुख्यालय को उपलब्ध कराए।

Related Post