परेशानी:- चिरुगोडा एवं तुलग्राम के बीच नाला उफनाने से 3 दिन तक कटी रही 3000 आबादी, मरीज को भी इलाज के लिए नहीं ले जा सके लोग

0
733
नाला में जलस्तर घटने के बाद खटिया पर लाद कर मरीज को अस्पताल ले जाने को मजबूर ग्रामीण

घाटशिला- कमलेश सिंह

पोटका:भारी बारिश के कारण पोटका प्रखंड के चिरू घोड़ा तथा तुलग्राम के बीच रेल गाढ़ा नाला 3 दिनों तक उफनाया रहा। इस वजह से नर्मदा पंचायत के 8 गांव के करीब 3 हजार लोग 3 दिन तक बंधक बने रहे। इससे ग्रामीणों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। उनका सड़क मार्ग से संपर्क पूरी तरह से टूट रहा। मरीजों को इलाज कराने के लिए कोई बाहर नहीं ले जा सका। शुक्रवार को नाले में जलस्तर घटने के बाद खटिया पर लाद कर मरीज को लोग अस्पताल ले गए। इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि इस नाला के कारण बारिश के दिनों में 3 माह तक गांव का संपर्क सड़क मार्ग एवं प्रखंड मुख्यालय से कट जाता है। भारी बारिश के बाद स्थिति और कठिन हो जाती है। मर्दा पंचायत के तुल ग्राम , कराड कोचा, शाहपुरा भूली डांगी, गालुडीह शहीद करीब 8 गांव के 3 हजार लोगों को हर साल इन कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। यहां पुलिया बनाने की मांग कई दशक से ग्रामीणों के द्वारा होती आ रही है। इसके बाद भी जनप्रतिनिधियों तथा सरकारी अधिकारियों की उपेक्षा का दंश यहां के ग्रामीण जल रहे हैं

बारिश के दिनों में यह नाला जब उफान पर रहता है तो आवागमन पूरी तरह से ठप हो जाता है इस नाला की वजह से कोई भी गाड़ी वाला गांव जाने के लिए तैयार नहीं होता है। कई बार ऐसी स्थिति आई है कि भाड़े की गाड़ी को नाला में पानी भर जाने के 1 सप्ताह तक गाड़ी को गांव में ही रहना पड़ा। इसके कारण कोई भी गाड़ी वाला गांव जाने को तैयार नहीं होता है।

प्रशासन ने ग्रामीणों को पुलिया निर्माण कर दिया था आश्वासन, अब तक कोई पहल नहीं

प्रखंड मुख्यालय तथा बाजार जाने के लिए एकमात्र यही रास्ता है इसी नाला से होकर लोगों को आवागमन करना पड़ता है। मरीज तथा बच्चे भी इसी मार्ग से आवागमन करते हैं। टूल ग्राम निवासी उपेंद्र सरदार फूरमल मांडी एवं बुधराय मांडी ने संयुक्त रूप से बताया कि बीते दिनों हरिणा में जनता दरबार लगाया गया था। जिसमें प्रशासनिक पदाधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया था कि इस साल में पुलिया का निर्माण शुरू करा दिया जाएगा। पुलिया निर्माण में जमीन की बाधा आई तो गांव के ही सुपाई माडी अपने रैयती जमीन देने के लिए तैयार हो गए इसके बावजूद मामला अब तक अटका हुआ है।

बाहरागोडा में बारिश से कई घर क्षतिग्रस्त

बहरागोड़ा प्रखंड में भारी बारिश के कारण कई घर धराशाई हो गया जानकारी के अनुसार साकरा पंचायत के पुरुलिया गांव की विधवा विमला नायक का घर ध्वस्त हो गया है। किधर शासन गांव के कृपासिंधु पुष्टि का दीवार टूट गया है। जिसके चलते भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है इस परिवार को सरकारी लाभ दिलाने के लिए भाजपा नेता संजय पराग वीडियो और ग्राम सेवक को सूचना दी गई है।