Fri. Jul 19th, 2024

एसडीपीओ रामगढ़ ने अवैध कोयला लदे दो एलपी ट्रकों को पकड़ा

एसडीपीओ रामगढ़ ने अवैध कोयला लदे दो एलपी ट्रकों को पकड़ा

देश में कोयला की कमी से मचा है हाहाकार

रामगढ़ जिले में बड़े पैमाने पर चल रहा है कोयले का अवैध कारोबार

रामगढ़। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोयले के दाम में भारी बढ़ोतरी से देश एवं विदेशों में परेशानी बढ़ गई है। देश में कोयला मंत्रालय और कोल इंडिया कोयला के उत्पादन बढ़ाने को लेकर दिन-रात एक किए हुए हैं। वहीं झारखंड के रामगढ़ जिला में कोयला का अवैध खनन और कारोबार चरम पर पहुंचा हुआ है।

 

 

पिछले लगभग 2 वर्षों से जिला में कोयला का अवैध खनन और कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। लेकिन इस अवैध कारोबार को रोकने के लिए सरकारी मशीनरी कहीं सक्रिय नहीं दिखती है। जिससे कि राज्य और केंद्र सरकार को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। ऐसा नहीं कि जिला में पदस्थापित वरीय अधिकारियों को कोयला के अवैध खनन और कारोबार की जानकारी नहीं है। इसके बावजूद कोला के अवैध कारोबार को रोकने के लिए कोई ठोस कार्रवाई नहीं होती है। कभी कभार बिना जानकारी के अवैध कोयला के कार्य करने वालों के वाहन पकड़े जाते हैं। हालांकि रामगढ़ के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी किशोर कुमार रजक कोयला के अवैध कारोबार को रोकने के लिए छापामारी करते रहे हैं।

एसडीपीओ किशोर कुमार रजक ने कल गुरुवार की रात अवैध कोयला तस्करी पर बड़ी कार्रवाई की गई है। कल 18 नवंबर के रात्रि करीब 10 बजे के आसपास रामगढ़ कोठार पूल के पास एक 14 चक्का कोयला लदे ट्रक को पकड़ा गया। गाड़ी का चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। गाड़ी पर कोई कागजात नही पाया गया।

पुनः आधे घंटे के बाद एक 14 चक्का कोयला लदे ट्रक को माण्डू थाना के पास पकड़ा गया। गाड़ी का चालक सह मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। गाड़ी पर कोई वैध कागजात नही पाया गया। दोनों ट्रक पुरुलिया से कोयला लोड करके पटना की और ले जाया जा रहा था।

छापेमारी दल में रामगढ़ एसडीपीओ के नेतृत्व में थाना प्रभारी रामगढ़ रोहित कुमार भी मौजूद थे। दोनों ट्रैकों के चालक और मालिक पर क्रमशः रामगढ़ थाना और माण्डू थाना में प्राथमिकी दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई की जा रही है। रामगढ़ के एसडीपीओ किशोर कुमार रजक ने एलपी ट्रक jh02 एएन 7143 और एलपी ट्रक बीआर 25 जीए 2581 को अवैध कोयला ले जाते पकड़ा है। रामगढ़ के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी द्वारा कोयला लदा ट्रक पकड़े जाने के बाद यह तो पक्का तय हो गया है कि जिले से बड़े पैमाने पर कोयला का अवैध कारोबार चल रहा है।

Related Post