Fri. Jun 21st, 2024

गोमिया बारूद कारखाना के निकट गेट जाम आंदोलन कंपनी मजदूरों का शोषण करती है : अनूप

**गोमिया बारूद कारखाना के निकट गेट जाम आंदोलन*

*कंपनी मजदूरों का शोषण करती है : अनूप*

*बोकारो* इंडियन एक्सप्लोसिव कर्मचारी संघ आईईएल गोमिया द्वारा पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सोमवार को गोमिया बारूद कारखाना गेट पर धरना और गेट जाम किया गया। दरअसल पहले से यूनियन के कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन गेट जाम व धरना का कार्यक्रम रखा था, लेकिन आज अचानक प्रबंधन को 8 अक्टूबर तक का समय दे दिया गया और यह कार्यक्रम एक दिन का बनकर रह गया। कल रात से ही यूनियन के कर्मचारी मुख्य गेट के समक्ष मौजूद थे और कंपनी के अन्य कर्मचारियों और अधिकारियों पर निगरानी रख रहे थे। इस दौरान कर्मचारियों और यूनियन के कर्मचारियों के बीच थोड़ी हाथापाई भी हुई, लेकिन अधिकारिक रूप से इसकी किसी ने पुष्टि नहीं की। आज के इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता जुटे। सहयोग के रूप में जेएमएम के कार्यकर्ता भी आंदोलन का समर्थन करने पहुंचे। बेरमो विधानसभा से कांग्रेस पार्टी के अलावा छात्र संघ, महिला मोर्चा एवं आरसीएमएस के नेता और कार्यकर्ता कार्यक्रम में भाग लिया। गोमिया के पूर्व विधायक योगेंद्र प्रअक्टूबर से अनिश्चितकालीन धरना और गेट जाम का कार्यक्रम किया जाएगा। सभा को संबोधित करते हुए गोमिया के पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद ने कहा कि कंपनी यहां सैकड़ों एकड़ जमीन अधिकरण कर ली है, जबकि इसका कारखाना बहुत ही कम जमीन पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि जो जमीन पर कंपनी उपयोग नहीं कर रही है उसे विस्थापितों को वापस करना होगा। सभा को गोमिया के कार्यकारी अध्यक्ष पंकज पांडेय, पेटरवार के कमलेश प्रसाद, नप अध्यक्ष राकेश सिंह, महेन्द्र विश्वकर्मा, गिरिजा शंकर पांडेय, सुबोध सिंह पवार, विकास सिंह, मदन मोहन महतो, विल्सन फ्रांसीस, अजय सिंह, राकेश नायक, नीतू सिंह, उर्मिला देवी, पम्मी सिंह ने संबोधित किया। संचालन बेरमो प्रखंड अध्यक्ष प्रमोद सिंह ने किया।
प्रशासन भी था तैनात
आंदोलन की भव्यता को बेरमो के एसडीओ अनंत कुमार, एसडीपीओ सतीश चंद्र झा, बीडीओ कपिल कुमार, सीओ संदीप अनुराग टोपनो, गोमिया थाना प्रभारी आशीष खाखा, आईईएल के आशीष कुमार एवं अनुमंडल के विभिन्न थाना क्षेत्र से पुलिस मौजूद था। आईईपीएल प्रबंधन के साथ बेरमो विधायक एवं पूर्व विधायक के उपस्थिति में वार्ता के बाद आंदोलन समाप्त हो गया।

*बोकारो* इंडियन एक्सप्लोसिव कर्मचारी संघ आईईएल गोमिया द्वारा पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सोमवार को गोमिया बारूद कारखाना गेट पर धरना और गेट जाम किया गया। दरअसल पहले से यूनियन के कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन गेट जाम व धरना का कार्यक्रम रखा था, लेकिन आज अचानक प्रबंधन को 8 अक्टूबर तक का समय दे दिया गया और यह कार्यक्रम एक दिन का बनकर रह गया। कल रात से ही यूनियन के कर्मचारी मुख्य गेट के समक्ष मौजूद थे और कंपनी के अन्य कर्मचारियों और अधिकारियों पर निगरानी रख रहे थे। इस दौरान कर्मचारियों और यूनियन के कर्मचारियों के बीच थोड़ी हाथापाई भी हुई, लेकिन अधिकारिक रूप से इसकी किसी ने पुष्टि नहीं की। आज के इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता जुटे। सहयोग के रूप में जेएमएम के कार्यकर्ता भी आंदोलन का समर्थन करने पहुंचे। बेरमो विधानसभा से कांग्रेस पार्टी के अलावा छात्र संघ, महिला मोर्चा एवं आरसीएमएस के नेता और कार्यकर्ता कार्यक्रम में भाग लिया। गोमिया के पूर्व विधायक योगेंद्र प्रअक्टूबर से अनिश्चितकालीन धरना और गेट जाम का कार्यक्रम किया जाएगा। सभा को संबोधित करते हुए गोमिया के पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद ने कहा कि कंपनी यहां सैकड़ों एकड़ जमीन अधिकरण कर ली है, जबकि इसका कारखाना बहुत ही कम जमीन पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि जो जमीन पर कंपनी उपयोग नहीं कर रही है उसे विस्थापितों को वापस करना होगा। सभा को गोमिया के कार्यकारी अध्यक्ष पंकज पांडेय, पेटरवार के कमलेश प्रसाद, नप अध्यक्ष राकेश सिंह, महेन्द्र विश्वकर्मा, गिरिजा शंकर पांडेय, सुबोध सिंह पवार, विकास सिंह, मदन मोहन महतो, विल्सन फ्रांसीस, अजय सिंह, राकेश नायक, नीतू सिंह, उर्मिला देवी, पम्मी सिंह ने संबोधित किया। संचालन बेरमो प्रखंड अध्यक्ष प्रमोद सिंह ने किया।
प्रशासन भी था तैनात
आंदोलन की भव्यता को बेरमो के एसडीओ अनंत कुमार, एसडीपीओ सतीश चंद्र झा, बीडीओ कपिल कुमार, सीओ संदीप अनुराग टोपनो, गोमिया थाना प्रभारी आशीष खाखा, आईईएल के आशीष कुमार एवं अनुमंडल के विभिन्न थाना क्षेत्र से पुलिस मौजूद था। आईईपीएल प्रबंधन के साथ बेरमो विधायक एवं पूर्व विधायक के उपस्थिति में वार्ता के बाद आंदोलन समाप्त हो गया।

Related Post