Fri. Jun 21st, 2024

फर्जी बिजली विभाग का अधिकारी बन 3 हजार ग्रामीण से वसूलते धराया, किया पुलिस के हवाले देखे video

चांडिल – चांडिल थाना क्षेत्र आसनबनी टोला रसकाडिह में फर्जी बिजली अफसर बनकर बकाया वसूलने पहुंचे को ग्रामीणों ने पकड़ कर चांडिल पुलिस के हवाले कर दिया .घटना दोपहर ३बजे लगभग की है. प्राप्त जानकारी के अनुसार बिजली विभाग का अधिकारी बन सोनू मछुआ बकाया बिजली बिल वसूलने रस्का डिह के बिरेन मांझी के पास पहुंचा और कहा कि तुम्हारा 15 हजार का बकाया है और अफसर आ रहे है ,

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=j1_ltKF5tJ0[/embedyt]

बिजली कनेक्सन काटेंगे ओर तुम्हे जेल भेजेगा . डर से दोनों में बातचीत के क्रम में 3 हजार रूपए देने पर बिजली कनेक्शन नहीं काटने की सहमति बनी .बिरेन मांझी ने रुपए जुगाड़ के लिए अन्य ग्रामीण को फोन किया उसने बिजली ऊर्जा मित्र प्रदीप महतो को सारी बात बताई , उसने कनीय अभियंता को जानकारी दी तो पता चला कि यह फर्जी बिजली विभाग का अधिकारी बनकर बकाया वसूली करता है.तभी अन्य ग्रामीण होपना मांझी पहुंचा उसने बताया कि फरवरी लॉक डाउन से दो दिन पूर्व 4500 हजार रूपए लेे गया . बिजली विभाग कार्यालय जाने पर पता चला कि ऐसा कोई भी वाकया वसूली के लिए अधिकारी नियुक्ति नहीं की गई है.ग्रामीणों ने आरोपी सोनू मछुआ को चांडिल पुलिस ए. एस.आई. इंद्रदेव ठाकुर के हवाले कर दिया . ग्रामीणों को उसने अपना परिचय डी.वी, सी.मनिकुई का स्टाफ और पश्चिम बंगाल के कंटतदिह जिला पुरुलिया का रहने वाला बताया . चांडिल थाना प्रभारी सुषमा कुमारी ने बताया कि मामले की जांच कर जेल भेजा जाएगा. मालूम हो के विगत 15 दिनों पूर्व भी नीमडीह थाना क्षेत्र में इस तरह की घटना घटित हुई थी. पुलिस दोनों मामले को जोड़ कर देख रही है .

चांडिल संजय शर्मा की रिपोर्ट

Related Post